ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड देहरादूनसरकार के खिलाफ पीडब्ल्यूडी-सिंचाई विभाग के फील्ड कर्मचारियों का प्रदर्शन

सरकार के खिलाफ पीडब्ल्यूडी-सिंचाई विभाग के फील्ड कर्मचारियों का प्रदर्शन

पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के फील्ड कर्मचारियों ने पेंशन की मांग को लेकर विधानसभा कूच किया। पुलिस ने विधानसभा से पहले ही रिस्पना के पास कर्मचारियों...

सरकार के खिलाफ पीडब्ल्यूडी-सिंचाई विभाग के फील्ड कर्मचारियों का प्रदर्शन
हिन्दुस्तान टीम,देहरादूनTue, 27 Feb 2024 03:45 PM
ऐप पर पढ़ें

पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के फील्ड कर्मचारियों ने पेंशन की मांग को लेकर विधानसभा कूच किया। पुलिस ने विधानसभा से पहले ही रिस्पना के पास कर्मचारियों को रोका। यहां कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। मजिस्ट्रेट के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजकर शीघ्र पेंशन का लाभ नहीं देने पर बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है।
मंगलवार को उत्तराखंड फील्ड कर्मचारी महासंघ से जुड़े पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के कर्मचारी रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल में एकत्र हुए। यहां से विधानसभा कूच शुरू किया। पुलिस ने सभी कर्मचारियों को रिस्पना के पास बैरेकेडिंग लगाकर रोका। यहां कर्मचारियों ने सड़क पर धरना देकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर 2020 से कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति पर पेंशन दी जा रही थी, जिसे राज्य सरकार ने 2023 में बंद कर दिया। जिससे कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। कहा कि जिन कर्मचारियों को पेंशन दी गई उनसे रिकवरी की जा रही है, जो न्यायोचित नहीं है। कर्मचारियों ने शीघ्र ही पेंशन का लाभ देने और रिकवरी पर रोक लगाने की मांग की है। चेताया कि यदि ऐसा नहीं किया गया तो कर्मचारी बड़ा आंदोलन करेंगे। कूच में प्रांतीय अध्यक्ष सतपाल सैनी, संरक्षक बाबू खान, सलाहकार बरफू लाल मोर्च, महामंत्री दिग्पाल बिष्ट, कोषाध्यक्ष राजेश प्रसाद, ओम प्रकाश भट्ट, सत्य प्रकाश डंगवाल, ललित मोहन शर्मा, हिम्मत सिंह नेगी, रामकुमार शर्मा, बृजमोहन बधानी, विजय वाल्मीकि, अनंतराम शर्मा, शिव कुमार, रूप किशोर, गब्बर सिंह सुरियाल आदि शामिल रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें