DA Image
28 नवंबर, 2020|1:07|IST

अगली स्टोरी

आवारा पशुओं पर अंकुश लगाने की मांग, पुलिस जवान की मौत का उठाया मुद्दा

default image

प्रेमनगर क्षेत्र के लोगों ने शहर की मुख्य सड़कों पर लगातार बढ़ रही आवारा पशुओं की आवाजाही पर गहरी चिंता व्यक्त की है। साथ ही नगर निगम और छावनी परिषद गढ़ी कैंट से इस बाबत ठोस कदम उठाए जाने की मांग की।

प्रेमनगर के मोहनपुर निवासी सामाजिक कार्यकर्ता वीरू बिष्ट के साथ स्थानीय नागरिक प्रेम सिंह, यशोधर प्रसाद, राहुल, संजय किमोठी, राम प्रसाद सेमवाल आदि ने कहा कि प्रेमनगर के अंतर्गत चकराता रोड स्थित नंदा चौकी सहित शहर के भीतरी और आंतरिक इलाकों में आवारा पशुओं की भरमार है। आए दिन इनके चलते कहीं न कहीं कोई हादसा अवश्य होता। आवारा पशु बीच सड़कों पर डेरा डाल रहे हैं। दिन के समय वाहन चालक जैसे तैसे स्वयं को बचा लेते हैं लेकिन रात के समय अंधेरा होने के कारण कई गंभीर हादसे हो रहे हैं।

सामाजिक कार्यकर्ता वीरू बिष्ट ने मुद्दा उठाते हुए कहा कि वह स्वयं कई बार इस मुद्दे को छावनी परिषद गढ़ी कैंट और नगर निगम के समक्ष रख चुके हैं। लेकिन कुछ कदम नहीं उठाया गया। वीरू बिष्ट ने कहा कि गत चार मई को बाइक चला रहे पुलिस के एक की रात्री के समय सांड से टकराने से दुखद मौत हुई। जिसके बाद से स्थानीय लोगों में संबंधित अधिकारियों की लापरवाही को लेकर भारी रोष व्याप्त है। स्थानीय लोगों ने मांग करते हुए कहा कि लोगों की सुरक्षा को लेकर मुख्य मार्गों पर घूम रहे आवारा पशुओं की रोकथाम को गंभीरता से प्रयास किए जाएं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Demand to curb stray animals raised issue of death of policeman