DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास कार्यों को लेकर पार्षदों ने दर्ज कराया विरोध

शहर में विकास कार्यों को लेकर पार्षदों ने नगर आयुक्त के समक्ष विरोध दर्ज कराया है। पार्षदों का कहना है कि अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ रहे हैं और अधिकारी पार्षदों को कोई तवज्जो नहीं दे रहे हैं। जिला योजना समिति सदस्य पार्षद भूपेन्द्र कठैत के नेतृत्व में नगर आयुक्त रवनीत चीमा ने मिले पार्षदों के प्रतिमंडल ने वार्ड पटेलनगर व आर्यनगर में वार्ड कार्यालय का काम पहले शुरू करने व बाद में अचानक रोके जाने पर आपत्ति जताई। पार्षदों का कहना था कि अधिकारियों की लचर शैली के कारण ही एनजीटी ने नगर निगम पर ट्रंचिंग ग्राउंड को लेकर एक लाख रूपये का जुर्माना लगाया है। इसके अलावा शहर की सफाई का काम हो या स्ट्रीट लाइट का काम इसमें भी अधिकारी और उनके मातहत कोताही बरत रहे हैं। शहर के विकास के लिए शासन से जो बजट मिला है उसे खर्च करने में भी भेदभाव किया जा रहा है। अमृत योजना, पेयजल योजना, ड्रेनेज व नालों की सफाई का काम पूरी तरह से एक ही विधानसभा में ही फोकस हो गया है। पार्षदों ने कहा है कि अधिकारियों ने कार्यशैली नहीं सुधारी तो पार्षदों की ओर से कोर्ट में याचिका दायरकर योजनाओं के एक-एक खर्चे का हिसाब मांगा जाएगा। मौके पर सरोज पंवार, अशोक कोहली, निखिल कुमार, विनय कोहली, अमिता देवी, गुलिस्तां अंसारी, मनमोहन धनै, महीपाल धीमान, रोशन बाला आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Councilors protest against development works