DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राथमिक शिक्षकों का मुद्दा सदन में उठाएगी कांग्रेस

प्राथमिक शिक्षकों को ब्रिज कोर्स और डीएलएड प्रशिक्षण से छूट की मांग को कांग्रेस विधानसभा और संसद में उठाएगी। बुधवार को शिक्षा निदेशालय में धरने पर बैठे शिक्षकों के बीच पहुंची नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृद्येश ने उन्हें ये आश्वासन दिया।

बुधवार को उत्तराखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के नैनीताल जिले से जुड़े शिक्षकों ने निदेशालय पर धरना दिया। पिछले 22 नवंबर से धरने पर बैठकर प्राथमिक शिक्षक अपनी मांगें उठा रहे हैं। दोपहर में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृद्येश उनके बीच पहुंची। वहां उन्होंने शिक्षकों की मांगों का समर्थन करते हुए उनसे बातचीत की। उन्होंने आश्वासन दिया कि कांग्रेस ने मुद्दे को अपने एजेंडे में शामिल कर लिया है। वे विधानसभा में और यूपी के सांसद के माध्यम से संसद में इस मुद्दे को उठाएंगी। शिक्षकों ने उनका आभार जताते हुए उनके हक की लड़ाई में साथ देने की बात कही।

शिक्षकों को कहना है कि तीन सितंबर 2001 के बाद नियुक्त और सरकारी संस्थान से विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण प्राप्त बीएड, सीपीएड, डीपीएड, बीपीएड, मृतक आश्रित और उर्दू शिक्षकों को ब्रिज कोर्स और डीएलएड प्रशिक्षण से बाहर रखा जाए। संघ के प्रदेश महामंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि करीब 13175 शिक्षकों को सरकार ने एनसीटीई से मान्यता की प्रत्याशा में सरकारी संस्थानों से छह माह का विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण दिया। इसके बाद ही उन्हें प्रशिक्षित वेतनमान पर नियुक्ति दी गई। ये शिक्षक 3 से 17 साल की सेवाएं दे चुके हैं। धरने में प्रदेश अध्यक्ष निर्मला मेहर, संरक्षक प्रेम सिंह, मनोज तिवारी, हंसा दत्त भट्ट, मुनीषा जोशी, इंद्र सिंह रावत, हरीश पाठक, पूरन सिंह, जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के अध्यक्ष सुभाष चौहान, उमेश सिंह आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress will raise primary teachers issue in the House