DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  देहरादून  ›  मुझे हराने को बड़े नेता ने बांटे एक करोड़ : किशोर

देहरादूनमुझे हराने को बड़े नेता ने बांटे एक करोड़ : किशोर

हिन्दुस्तान टीम,देहरादूनPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:00 AM
मुझे हराने को बड़े नेता ने बांटे एक करोड़ : किशोर

पूर्व सीएम हरीश रावत के उत्तराखंडियत का सफरनामा सीरीज के बीच कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने भी सोशल मीडिया पर अपने अनुभव साझा शुरू करने शुरू कर दिए। किशोर के निशाने पर कांग्रेस के सभी शीर्ष नेता हैं। वर्ष 2018 में भाजपा में शामिल हो चुके कुछ कद्दावर नेताओं पर भी किशोर ने अपने साथ साजिश करने का आरोप लगाया। सोशल मीडिया पर रावत और किशोर के इन संस्मरणों से कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति भी धीरे-धीरे गरमा रही है।

सोमवार को किशोर ने कहा कि वर्ष 2016 में एक छोटी सी बात ने कांग्रेस को 11 विधायकों पर ला दिया। जब हक मारा जाता है तब ऐसा ही होता है। तत्कालीन सीएम हरीश रावत दो जगह से चुनाव हारे। मैं सहसपुर से इसलिए चुनाव हारा क्यों कि कुछ लोगों के इशारे पर वहां से बागी उम्मीदवार खड़ा करवाया गया। यदि ऐसा न होता तो कांग्रेस सहसपुर से कम से कम 15 हजार वोट से जीतती।

आगे किशोर ने लिखा कि वर्ष 2012 के चुनाव में भी टिहरी विधानसभा सीट पर एक बड़े नेता ने मेरे खिलाफ चार उम्मीदवार खड़े करवाकर हरवाने का षड्यंत्र किया। एक को तो एक करोड़ रुपये तक दे दिए। ये बड़े नेता इस वक्त भाजपा में हैं। मालूम हो कि किसी वक्त रावत के सिपहसालार रहे किशोर अब अक्सर रावत पर भी परोक्ष हमला करने से नहीं चूक रहे हैं।

मैं यह नहीं समझ पा रहा हूं कि टिहरी के एक गरीब हल्या के बेटे से लोग इतना आंतकित क्यों रहते हैं? अभी भी संभलने का वक्त है। चुनाव सिर पर आ चुके हैं।

किशोर उपाध्याय, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस

संबंधित खबरें