ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड देहरादूनआईएमए की कमांडेट परेड में 343 युवा अफसरों ने दिखाया जोश

आईएमए की कमांडेट परेड में 343 युवा अफसरों ने दिखाया जोश

देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में एक साल का कड़ा प्रशिक्षण लेकर 343 युवा देश की सुरक्षा को तैयार...

आईएमए की कमांडेट परेड में 343 युवा अफसरों ने दिखाया जोश
हिन्दुस्तान टीम,देहरादूनThu, 07 Dec 2023 06:30 PM
ऐप पर पढ़ें

देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में एक साल का कड़ा प्रशिक्षण लेकर 343 युवा देश की सुरक्षा को तैयार हैं। शनिवार नौ दिसंबर को अकादमी में मुख्य परेड के बाद अंतिम पग पार कर अलग—अलग राज्यों के ये युवा बतौर अधिकारी थलसेना की अलग-अलग कोर में जुड़ जाएंगे। इसके अलावा 12 मित्र देशों के 29 जेंटलमैन कैडेट भी पास आउट होंगे।
देश-विदेश के कुल 372 जेंटलमैन कैडेटों ने गुरुवार सुबह को कमांडेंट परेड (फुल ड्रेस रिहर्सल परेड) में शिरकत कर शानदार कदमताल की। अकादमी के ऐतिहासिक चेटवुड बिल्डिंग के सामने ड्रिल स्क्वायर पर पासिंग आउट बैच के इन जेंटलमैन कैडेटों ने आईएमए गीत की धुन पर कदमताल करते हुए अपने प्रशिक्षण का परिचय दिया। इस दौरान समादेशक ले. जनरल वीके मिश्रा ने रिहर्सल के तौर पर बतौर निरीक्षण अधिकारी परेड का निरीक्षण कर पासिंग आउट बैच के जेंटलमैन कैडेटों से सलामी ली। करीब दो घंटे तक आयोजित हुई कमांडेंट परेड में जेंटलमैन कैडेटों ने चेटवुड भवन के सामने ड्रिल स्क्वायर पर कदमताल करते हुए दर्शक दीर्घा में बैठे सैन्य अधिकारियों, प्रशिक्षकों व जूनियर कैडेटों को गदगद किया। इस अवसर पर समादेशक ने सैन्य प्रशिक्षण के दौरान श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेटों को मेडल प्रदान कर सम्मानित किया। जेंटलमैन कैडेटों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बतौर सैन्य अधिकारी सेना में शामिल होने जा रहे कैडेटों को सैन्य परंपराओं का निवर्हन कर आगे बढ़ना होगा। कहा कि सेना की प्रतिष्ठा अब उनके कंधो पर होगी। उच्च आदर्श व उत्कृष्टता युवा अफसरों के कार्यों में प्रतिबिंबित होने चाहिए। मित्र देशों के कैडेटों को उन्होंने सैन्य प्रशिक्षण में सकारात्मक दृष्टिकोण के लिए बधाई दी। उम्मीद जताई कि वह आईएमए में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान के यादगार लम्हों को समेट कर अपने साथ ले जाएंगे, जो कि मौजूदा परिपेक्ष्य में वैश्विक स्तर पर दोस्ताना माहौल के लिए जरूरी है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।