The silence of the voters put the candidates in the confusion - मतदाताओं की चुप्पी ने प्रत्याशियों को डाला असमंजस में DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदाताओं की चुप्पी ने प्रत्याशियों को डाला असमंजस में

दीपावली पर्व संपन्न हो गया है। इसी के साथ नगर निकाय चुनाव के लिए सभी प्रत्याशियों ने प्रचार अभियान तेज कर दिया है। मतदान की तिथि नजदीक आते ही चुनावी रंग चढ़ने की उम्मीद है। प्रत्याशी अब रात के वक्त भी घर घर जागर मतदाताओं से वोट देने की अपील कर रहे हैं। दूसरी तरफ मतदाताओं की चुप्पी ने प्रत्याशियों को असमंजस में डाल दिया है। निकाय चुनाव की घोषणा हुए एक पखवाड़ा हो गया है। लेकिन अभी तक मतदाताओं की चुप्पी रहस्य बनी हुई है। इससे प्रत्याशियों में भी असमंजस की स्थिति है। दीपावली पर्व से पहले तक जिला मुख्यालय में चुनावी हलचल परवान नहीं चढ़ सकी थी। लोगों का कहना था कि दीप पर्व निपटने के बाद चुनाव में तेजी आएगी। अब दीपावली भी निपट चुकी है। इसी के साथ प्रत्याशियों ने अब प्रचार अभियान तेज कर दिया है। आलम यह है कि दीपावली निपटने के बाद प्रत्याशी रात में घर घर जाकर वोटरों से वोट देने की अपील कर रहे हैं। उधर मतदाताओं की खामोशी ने प्रत्याशियों को असमंजस में डाला है। वोटरों के साइलेंट मोड में होने से प्रत्याशी किसी भी तरह का अनुमान लगाने में खुद को असमर्थ पा रहे हैं। उधर जानकारों का कहना है कि मतदान तिथि नजदीक आने के साथ ही चुनाव जोर पकड़ेगा। उनका कहना है कि अगले कुछ दिनों में चुनावी तस्वीर धीरे धीरे साफ होने लगेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The silence of the voters put the candidates in the confusion