DA Image
24 नवंबर, 2020|10:56|IST

अगली स्टोरी

ग्राम सभाओं के कार्य ठेकेदारी पर देने का विरोध

ग्राम सभाओं के कार्य ठेकेदारी पर देने का विरोध

टनकपुर-बनबसा के ग्राम प्रधानों ने गांव में आउट सोर्स ठेकेदारों के माध्यम से हो रहे विकास कार्यों का विरोध जताते हुए बीडीओ के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है। साथ ही उन्होंने मनरेगा में कार्य की समयावधि और मानदेय बढ़ाने की भी मांग की है। मंगलवार देर शाम टनकपुर-बनबसा के ग्राम प्रधानों ने ज्ञानखेड़ा में बीडीओ के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। जिसमें उन्होंने जल जीवन मिशन के तहत कार्यदाई संस्था आउटसोर्स ठेकेदार से ना कराकर गांव के प्रधानों से कराने की मांग की है। जिससे गांव के लोगों को रोजगार भी मिल सके। ज्ञानखेड़ा प्रधान रवि कुमार ने कहा कि कोरोना के चलते ग्रामीण इलाकों में कई लोग बेरोजगार बैठे हैं। ऐसे में आउटसोर्स ठेकेदार के माध्यम से विकास कार्य कराने से गांव के लोगों का रोजगार प्रभावित हो रहा है। इसके साथ ही उन्होंने मनरेगा के तहत कार्ड धारक को सौ दिन के बजाय दो दिन का रोजगार और मानदेय बढ़ाकर पांच सौ करने की मांग की है। यहां राधिका चंद, मोहिनी चंद, महेश मुरारी, अनिल प्रसाद, दीपक प्रकाश चंद, तपन गड़कोटी, जीवन गिरी, प्रेमचंद मौर्य, रिंकी गुप्ता आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Opposition to give the work of Gram Sabhas on contractual basis