DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चम्पावत में सरकारी बैंक कर्मी गए हड़ताल पर, लोग रहे परेशान

चम्पावत में सरकारी बैंक कर्मी गए हड़ताल पर, लोग रहे परेशान

चम्पावत में सरकारी बैंक कर्मी बुधवार से दो दिनी हड़ताल पर चले गए हैं। कर्मियों ने सरकार पर सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया है। बैंक बंद होने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इसके चलते लोगों को बैंकों सहित एटीएम से भुगतान नहीं हो पाया। बैंकों के बंद होने से चम्पावत में लगभग दस करोड़ रुपये का लेनदेन प्रभावित रहा।

बुधवार को संतोष कुमार के नेतृत्व में कर्मियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर बैंक परिसर में प्रर्दशन किया। उनका कहना था कि सरकार एक तरफ उन पर मनमाने फरमान थोपती रहती है, वहीं दूसरी ओर उनके हित के लिए कोई प्रयास नहीं करती है। नवम्बर 2017 में कर्मियों के लिए पे स्केल जारी कर दिया था। सरकार ने उनके पेस्केल में दो प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है, जो कि न्याय संगत नहीं है। उन्होंने कर्मचारियों के पे स्केल को बढ़ाने की मांग उठाई। कहा कि पे रिवीजन का फायदा सात स्केल तक के कर्मचारियों को भी मिलना चाहिए, अभी तक यह तीन स्केल तक के कर्मियों को ही दिया जाता रहा है। एसबीआई मुख्य प्रबंधक एनआर जौहरी ने बताया कि बैंक कर्मी अपनी विभिन्न मांगों को लेकर दो दिनी हड़ताल पर गए हुए हैं। इसके कारण बैंकों में लेनदेन ठप है। बैंक बंद होने से अकेल एसबीआई की ही शाखाओं छह से सात करोड़ रुपये का लेनेदेन प्रभावित हुआ है। प्रदर्शन करने वालों में एमसी तिवारी, अजय कुमार शर्मा, ललित नैनवाल, देव सिंह, निर्मल भट्ट, खीम चंद्र टांक, अशोक कुमार आदि शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:On strike in the government bank in Champawat