DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

25 जून से रात में बंद हो जाएंगे मां पूर्णागिरि के कपाट

मानसून की निकटता और फिर शीतकाल को देखते हुए पूर्णागिरि मंदिर समिति ने 25 जून से होलिका दहन तक रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक मंदिर के कपाट बंद रखने का निर्णय लिया है। इस अवधि में श्रद्धालु मां पूर्णागिरि के दर्शन नहीं कर पाएंगे। यह निर्णय मंदिर समिति की बैठक में सर्वसम्मति से लिया गया।

शनिवार को काली मंदिर के समीप आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि कपाट बंद होने की दशा में श्रद्धालुओं को मुख्य मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा। इसके अलावा शारदीय नवरात्र में 29 सितम्बर से 13 अक्टूबर तक तथा नव वर्ष के उपलक्ष्य में 31 दिसम्बर से एक जनवरी 2020 तक मंदिर के कपाट 24 घंटे खुला रखने का निर्णय लिया गया। मंदिर समिति अध्यक्ष भुवन चन्द्र पाण्डेय ने बताया कि यह निर्णय वर्षाकाल और शीतकाल के दौरान यात्रियों को परेशानी से बचाने के लिए लिया गया है। मंदिर समिति के निर्णय की जानकारी जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं एसडीएम टनकपुर को भी दे दी गई है। बैठक में उपाध्यक्ष नीरज पाण्डेय, सचिव गिरीश पाण्डेय, कोषाध्यक्ष कैलाश पाण्डेय समेत कई लोग मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mother s holidays from June 25 will be closed in the night