ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड चम्पावतअगले साल फरवरी में बनकर तैयार हो जाएगा आईएसबीटी

अगले साल फरवरी में बनकर तैयार हो जाएगा आईएसबीटी

टनकपुर में अगले साल फरवरी तक आईएसबीटी बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद यहां पर 100 से अधिक बसें एक साथ पार्क हो सकेंगी। रोडवेज वर्कशॉप के पास 55.90...

अगले साल फरवरी में बनकर तैयार हो जाएगा आईएसबीटी
हिन्दुस्तान टीम,चम्पावतMon, 27 May 2024 09:30 PM
ऐप पर पढ़ें

टनकपुर में अगले साल फरवरी तक आईएसबीटी बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद यहां पर 100 से अधिक बसें एक साथ पार्क हो सकेंगी। रोडवेज वर्कशॉप के पास 55.90 करोड़ की लागत से बस टर्मिनल का निर्माण किया जा रहा है। 35 प्रतिशत से अधिक कार्य पूरा हो गया है। लोगों को यहां पर कई आधुनिक हाईटेक सुविधाएं भी मिलेंगी।
कुमाऊं का सबसे पुराना रोडवेज स्टेशन टनकपुर का है। जिसका निर्माण वर्ष 1960 में हुआ था। लेकिन आबादी और बसों की संख्या बढ़ने के बाद यहां पर अब रोडवेज बसों को पार्क करने के लिए सीमित जगह बच गई है। इस कार्यशाला से लगे तीन डिपो टनकपुर, लोहाघाट और पिथौरागढ़ डिपो के अलावा दूसरे डिपो की भी करीब तीन सौ से अधिक बसें पांच हजार से अधिक यात्रियों को प्रतिदिन गंतव्य तक लेकर जाती हैं। बस टर्मिनल के लिए रोडवेज कार्यशाला में 55.90 करोड़ की लागत से निर्माण कार्य किया जा रहा है। निगम से मिली जानकारी के अनुसार वर्तमान में कार्यशाला में 35 प्रतिशत से अधिक का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। जो अगले साल फरवरी 2025 में बनकर तैयार हो जाएगा। बताया कि 106 बीघा जमीन पर बनने वाले इस बस टर्मिनल में 100 बसों के पार्क होने की क्षमता होगी। साथ ही प्रतीक्षालय, कैंटीन, हाईटेक शौचालय सहित यात्रियों को आधुनिक सुविधाएं भी दी जाएगी।

अगले साल फरवरी 2025 तक आईएसबीटी का निर्माण पूरा हो जाएगा। वर्तमान में लगभग 35 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। बस टर्मिनल बनने से लोगों को राहत मिलेगी।

- अशोक स्वरुप, प्रोजेक्ट मैनेजर, पेयजल निगम, लोहाघाट।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।