DA Image
21 जनवरी, 2020|5:06|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिला स्तरीय अधिकारियों का गांवों में रात्रि विश्राम रोस्टर जारी

जिला स्तरीय अधिकारियों को अब विभिन्न राजस्व गांवों में जाकर रात्रि विश्राम करते हुए ग्रामीणों की समस्याओं को हल करना होगा। इसके लिए डीएम डॉ़ अहमद इकबाल की ओर से रोस्टर जारी कर दिया गया है। इसके तहत जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह रोस्टर के आधार पर जिले के गांवों का भ्रमण करते हुए रात्रि विश्राम कर ग्रामीणों की समस्याओं का निस्तारण करें।सरकार जनता के द्वार के तहत जिलाधिकारी कार्यालय से जारी रोस्टर के अनुसार जिला, तहसील और विकासखंड स्तर पर अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। इसके तहत अधिकारी आवंटित राजस्व गांवों का भ्रमण करते हुए गांवों में निर्माणाधीन योजनाओं का निरीक्षण कर स्थिति से अवगत कराएंगे। इसके तहत मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, बेटी बचाओ बेटी बढ़ाओ, प्रधानमंत्री आवास योजना, सांसद और विधायक निधि, प्रधानमंत्री कृषि योजना और समाज कल्याण विभाग की ओर से आयोजित योजनाओं की समीक्षा प्रत्येक माह की 25 तारीख तक की जानी है। इसके तहत चम्पावत विकासखंड के 12 विभागों को 12 राजस्व गांव, लोहाघाट विकासखंड के नौ विभागों को 12 राजस्व गांव, पाटी विकासखंड के 11 विभागों को 12 राजस्व गांव और बाराकोट विकासखंड के सात विभागों को 12 राजस्व गांव दिए गए हैं। प्रत्येक माह सूचना उपलब्ध नहीं किए जाने पर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए हैं। सीडीओ एसएस बिष्ट ने बताया कि अधिकारियों के लिए गांवों में रात्रि विश्राम का रोस्टर तय कर लिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:District level officers issue night resting roster in villages