DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शारदा बैराज- ब्रह्मदेव सड़क का निर्माण कार्य शुरू

शारदा बैराज- ब्रह्मदेव सड़क का निर्माण कार्य शुरू

एक माह से बंद पड़े टनकपुर के शारदा बैराज से ब्रह्मदेव (नेपाल) तक की 1.3 किमी लंबी सड़क का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। भारतीय विदेश मंत्रालय के निर्देश के बाद कार्यदायी संस्था ने बुधवार से नेपाल की ओर के 1.5 किमी हिस्से को छोड़कर भारत की तरफ काम शुरू कर दिया है। पिलर संख्या तीन से आगे विवादित क्षेत्र में फिलहाल नेपाल सरकार की अनुमति के बाद काम शुरू किया जाएगा। वर्ष 1991 में भारत और नेपाल के बीच शारदा बैराज से ब्रह्मदेव तक सड़क निर्माण को लेकर संधि हुई थी। इस वर्ष भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली के बीच संधि को आगे बढ़ाने पर सहमति हुई थी जिसके बाद केन्द्र सरकार ने सड़क निर्माण कार्य में आ रही सभी अड़चनों का तत्काल निस्तारण करते हुए सड़क निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिए और इसके लिए 6.72 करोड़ रुपये की धनराशि भी स्वीकृत कर दी। नोडल एजेंसी एनएचपीसी ने कार्यदाई संस्था पीआईयू को कार्य शुरू करने के लिए धनराशि भी उपलब्ध करा दी। एक माह पूर्व शारदा बैराज से सड़क निर्माण का काम शुरू भी कर दिया गया। जैसे ही ब्रह्मदेव के समीप नो मैंस लैंड में पिलर तीन के पास काम शुरू हुआ ब्रह्मदेव के लोगों ने इसका विरोध शुरू कर दिया। विरोध के बाद नेपाल का स्थानीय प्रशासन अपने नागरिकों के समर्थन में आ गया। मामला तूल पकड़ता देख भारत ने सड़क निर्माण का कार्य बंद कर दिया। इस बीच दोनों देशों के स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों के बीच कई दौर की वार्ता भी हुई लेकिन हल नहीं निकल पाया। पिछले पखवाड़े नई दिल्ली में भारतीय विदेश मंत्रालय की बैठक में सड़क नेपाल की ओर 1.5 किमी के विवादित हिस्से को छोड़कर शेष काम पूरा करने पर सहमति बनी। जिसके बाद नोडल एजेंसी ने सड़क का निर्माण कार्य शुरू करवा दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Construction of Sharda Barrage-Brahmadev Road