DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चम्पावत के छात्रों का आमरण अनशन जारी

चम्पावत के छात्रों का आमरण अनशन जारी

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं का पांच सूत्रीय मांगों को लेकर रविवार को भी आमरण अनशन जारी रहा। कॉलेज की मांगों को लेकर चार छात्र पिछले चार दिन से भूख हड़ताल पर डटे हुए हैं। छात्रों ने कहा कि जब तक शासनदेश नहीं पहुंचता है तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा।

छात्र-छात्राओं की समस्याओं के समाधान नहीं होने पर रविवार को पूर्व विधायक हेमेश खर्कवाल भी धरना स्थल पर पहुंच गए। उन्होंने छात्र-छात्राओं से हालचाल जाना और सरकार पर छात्र-छात्राओं के भविष्य से खिलवाड़ का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा व्यवस्था को ढर्रे में लाने में नाकाम साबित हुई है। कहा कि कई दिन से छात्र आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं, बावजूद उनकी सुध नहीं ली जा रही है। अनशन स्थल से ही खर्कवाल ने उच्च शिक्षा मंत्री को फोन किया, मगर व्यस्तता के चलते धनसिंह रावत से उनकी वार्ता नहीं हो पाई। उन्होंने कहा कि वह सोमवार को इस मसले को शासन तक पहुंचाएंगे। आमरण अनशन पर बैठे छात्र नेता हरीश जोशी, आदर्श भट्ट, पीयूष जोशी और पूरन बिष्ट ने कहा कि जब तक मांगों पूरी नहीं होती है तो आमरण अनशन जारी रहेगा। सपा जिलाध्यक्ष ललित मोहन भट्ट ने छात्र-छात्राओं की मांगों को लेकर समर्थन किया। इस मौके पर सुनील पुनेठा, संदीप पांडेय, नवीन बोहरा, कमल सिंह, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष गौरव पांडेय, छात्रा उपाध्यक्षा पूजा खाती, धीरज चौड़ाकोटी, शंकर जोशी, मुकेश जोशी, पूरन बिष्ट, प्रेम बल्लभ, अजय चौधरी, कमल पांडेय, सूरज पुनेठा, सागर मौनी, विजय, अमित चौहान, निखिल बोहरा, श्याम सिंह कार्की, हरीश चौधरी, दान सिंह, विपिन पुनेठा, धीरज सिंह, कैलाश जोशी, राजेश जोशी और अभिषेक गंगोला आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Champawat students continue hunger strike