DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएम ने किया कई विभागों का औचक निरीक्षण

डीएम ने किया कई विभागों का औचक निरीक्षण

जिलाधिकारी डॉ. अहमद इकबाल ने होम्योपैथिक, जिला चिकित्सालय, राजकीय पशु चिकित्सालय और राजकीय अंगोरा प्रजनन केंद्र का निरीक्षण किया। गुरुवार को हुए औचक निरीक्षण में उन्होंने सभी विभागों के कक्ष, स्टोक रजिस्टर और उपस्थिति रजिस्टर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान स्टॉक रजिस्टर और उपस्थिति रजिस्टर सही पाये गए और कार्यालय परिसर की सफाई व्यवस्था भी चाक चौबन्द पायी गयी। जिलाधिकारी ने कार्यालयों की व्यवस्था को आगे भी ऐसे ही बनाये रखने के निर्देश जिला हौम्योपैथिक अधिकारी व पशु चिकित्साधिकारी को दिये। पशु चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान डा. जेपी यादव उपार्जित अवकाश पर पाये गये, जिनका अवकाश प्रार्थना पत्र स्वीकृति के साथ कार्यालय में पाया गया। डीएम ने राजकीय अंगोरा प्रजनन केंद्र के निरीक्षण के में प्रभारी अधिकारी डॉ. स्वर्णा भोज को खरगोशों को चारा उपलब्ध कराने तथा गुणवत्ता को निरन्तर बनाये रखने के निर्देश दिये। उन्होंने अंगोरा नस्ल के खरगोशों का व्यापारिक स्तर पर उपयोग करने के लिए किसानों को प्रेरित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अंगोरा प्रजनन केंद्र की क्षमता बढ़ाने के लिए कार्य योजना तैयार कर प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। डॉ. स्वर्णा भोज ने जिलाधिकारी को बताया कि एक खरगोश से तीन माह में ऊन प्राप्त किया जाता है। एक बार में खरगोश से लगभग 200 से 300 ग्राम तक ऊन प्राप्त होता है। जसकी कीमत सरकारी दरों में 15 सौ रुपये प्रति किलो मिलती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीएम ने किया कई विभागों का औचक निरीक्षण