DA Image
1 अक्तूबर, 2020|10:30|IST

अगली स्टोरी

युवा कांग्रेस ने फूंका यूपी पुलिस व योगी आदित्यनाथ का पुतला

युवा कांग्रेस ने फूंका यूपी पुलिस व योगी आदित्यनाथ का पुतला

उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए सामूहिक दुराचार, हत्या और राहुल गांधी के साथ पुलिस की अभद्रता से जिले के कांग्रेसियों में उबाल है। युवा कांग्रेस ने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ हुई धक्कामुक्की और गिरफ्तारी को लेकर यूपी पुलिस और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला जलाया। वहीं महिला कांग्रेस ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सरकारी की नाकामी के विरोध में कैंडल मार्च निकाला। कार्यकर्ताओं ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाने की मांग की। युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष कवि जोशी के नेतृत्व में कार्यकर्ता नुमाइशखेत मैदान में एकत्र हुए। कार्यकर्ताओं ने पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी के साथ की गई पुलिस की अभद्रता पर रोष जताया। आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि योगी सरकार में जंगलराज कायम हो रहा है। एक ओर यूपी में अपराध चरम पर है, वहीं दूसरी ओर विपक्षी दलों को जबरन दबाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे राहुल और प्रियंका गांधी को जिस तरह से रोकने की कोशिश की गई, वह बेहद शर्मनाक है। कहा कि जनप्रतिनिधि के साथ धक्कामुक्की की गई। राहुल गांधी को झाड़ियों में तक गिरा दिया गया। इसके बाद भी पुलिस ने उन्हें पीड़ित परिवार से मिलने देने की बजाय गिरफ्तार कर लिया। कहा कि धारा 144 का हवाला देने वाली पुलिस ने राहुल को अकेले भी नहीं जाने दिया, जो बेहद निंदनीय है। मुख्यमंत्री को इस घटना का संज्ञान लेकर तत्काल दोषी पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार और पुलिस के इस काम का युवा कांग्रेस पुरजोर विरोध करेगी। इस मौके जिलाध्यक्ष कांग्रेस लोकमणि पाठक, पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐठानी, राजेंद्र टंगड़िया, भूपेश खेतवाल, भीम कुमार, बालकृष्ण, रंजीत दास, अंकुर उपाध्याय, ईश्वर पांडे, रोहित खैर, प्रकाश कुमार किशन कठायत, विनोद पाठक,आदि मौजूद थे। महिला उत्पीड़न के विरोध में कैंडल लेकर सड़क पर उतरी महिलाएंबागेश्वर। हाथरस में युवती के साथ हुई जघन्य घटना और पीड़ित को न्याय दिलाने की मांग को लेकर महिला कांग्र्रेस ने नगर में कैंडल मार्च निकाला। कांग्रेस की महिला जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में युवा कांग्रेस, सेवा दल, एनएसयूआई, एससी प्रकोष्ठ, पंचायत राज प्रकोष्ठ सहित सभी घटकों के कार्यकर्ता मार्च में मौजूद रहे। उन्होंने नुमाइशखेत के स्वराज भवन से कैंडल मार्च की शुरूआत की। जो दुग बाजार होते हुए चैक बाजार तक पहुंची। यहां पंत चौक पर कार्यकर्ताओं ने मार्च का समापन किया। महिला जिलाध्यक्ष रावल ने कहा कि यूपी में महिलाओं पर अपराध चरम पर है। योगी सरकार और उत्तर प्रदेश की पुलिस अपराध रोकने में नाकाम हो रही है। जिस तरह से पुलिस ने रातोंरात युवती का अंतिम संस्कार किया, वह शर्मनाक है। इसके बावजूद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ घटना पर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए संघर्ष करेगी। महिला उत्पीड़न को किसी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस मौके पर इंद्रा जोशी, लक्ष्मी धर्मशक्तू, सुनीता टम्टा, माया टम्टा, बबली, शैली, मनीषा, गीतांजलि, समीा, रिया, साक्षी, जानकी, निशा और शीला आदि मौजूद रहीं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Youth Congress burnt effigy of UP Police and Yogi Adityanath