DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बागेश्वर तहसील रोड के घरों में घुसा पानी

बागेश्वर तहसील रोड के घरों में घुसा पानी

बागेश्वर तहसील रोड में सोमवार को हुई बारिश से कई घरों में पानी घुस गया। लोगों ने जिला विकास प्राधिकरण पर मकानों की मरम्मत करने के लिए अनुमति नहीं देने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यदि उनके परिवार के साथ अनहोनी हुई तो जिला प्रशासन जिम्मेदार होगा। जिला विकास प्राधिकरण लगने के बाद लोगों को नए मकान बनाने की अनुमति तो मिल रही है, लेकिन पुराने मकानों की मरम्मत करने के लिए भी उन्हें डीडीए की अनुमति का इंतजार करना पड़ रहा है। सोमवार को झमाझम हुई बारिश के बाद तहसील रोड में कई घरों में पानी घुस गया। 70 साल की पार्वती देवी पत्नी प्रकाश सिंह कार्की मकान की हालत देखकर रो पड़ी। उन्होंने बताया कि मकान की छत बारिश में टपक रही है। भीतर सीलन हो गई है। छोटे बच्चे बीमार पड़ गए हैं। जीवन सिंह, पूरन सिंह और हेमा देवी के मकान भी छत भी टपक रही है। पीड़ितों ने बताया कि कई बार मकान की मरम्मत को अनुमति मांगी, लेकिन नहीं मिल सकी है। उन्होंने कहा कि डीडीए ने उनके सामने संकट खड़ा कर दिया है। वे इन मकानों में सालों से रह रहे हैं। उन्होंने कहा कि छतों में पानी रुक रहा है। वह पूरे कमरों में फैल रहा है। घर में रखा कीमती सामान भी खराब हो रहा है। उन्होंने कहा कि बच्चे सीलन में रहने से बीमार पड़ गए हैं। वहीं तहसील रोड में नालियां नहीं होने से कई घरों में पानी घुस गया। पीड़ित बाला दत्त भट्ट ने बताया कि पालिका ने नाली के ऊपर से अभी तक अतिक्रमण नहीं हटाया है। जिससे पानी उनके भवन के आसपास घूम रहा है। वह कमरों के भीतर भी घुस रहा है। उन्होंने कहा कि उनका लाखें रुपये का फर्नीचर खराब हो गया है। इधर ईओ राजदेव जायसी ने बताया कि नालियों की सफाई नियमित की जा रही है। तहसील रोड में अतिक्रमण को जल्द हटाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Water in the houses of Bageshwar tehsil road