DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोल्डरों से लोहागढ़ी के ग्रामीणों को खतरा

बोल्डरों से लोहागढ़ी के ग्रामीणों को खतरा

पहाड़ के दूरस्थ क्षेत्रों में इस आधुनिक युग में भी सड़क मार्ग मात्र कल्पना है। सुविधाओं के अभाव में पहले ही गांव के गांव खाली हो चुके हैं। जो ग्रामीण गावों में रह रहे हैं उन्हें सिस्टम ने रुला रखा है।

लोहागड़ी बज्वाड़ मोटर मार्ग ठेकेदार द्वारा नियमों को ताक पर रखकर काम को कराया गया है। मोटर मार्ग में कई स्थानों पर बड़े-बड़े बोल्डर गिरे हुए है। सड़क मार्ग से गुजरने वाले वाहनों पर बोल्डरों का खतरा बना हुआ है। बड़े बोल्डरों के चलते वाहनों को गावों से करीब दस किलोमीटर की दूरी पर खड़ा कर पैदल ही सफर करना पड़ रहा है। वहीं, मोटर मार्ग को जोड़ने वाली पुल का अभी तक काम शुरू नहीं हो पाया है। सड़क में पड़े बोल्डरों को लेकर ग्रामीणों द्वारा कई बार संबंधित विभाग के अधिकारियों शिकायत की। इसके बावजूद भी सड़क से बोल्डरों को नहीं हटाया गया है। रंजीत रावत, विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष, युवा कांग्रेस ने कहा कि विभाग और प्रशासन की इस तरह की अनदेखी निंदनीय है। विभाग के द्वारा गरुड़ ब्लॉक में कई सड़कों में इसी तरह की लीपापोती की गई है, इस तरह की मनमानी कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यदि एक महीने के अंदर सड़क को यातायात के लायक नहीं बनाया गया तो वे उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Villagers threaten Boulders in Lohagiri road