DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन में उमेश रहे अव्वल

इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन में उमेश रहे अव्वल

1 / 2जयपुर में इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन 22 से 24 अक्तूबर तक हुई। एग्जिवेशन में अनेक प्रतिभाशाली कलाकारों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। इसमें से कुछ कलाकारों की कलाकृति को विशेष प्रकार से सम्मानित किया...

इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन में उमेश रहे अव्वल

2 / 2जयपुर में इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन 22 से 24 अक्तूबर तक हुई। एग्जिवेशन में अनेक प्रतिभाशाली कलाकारों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। इसमें से कुछ कलाकारों की कलाकृति को विशेष प्रकार से सम्मानित किया...

PreviousNext

जयपुर में इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन 22 से 24 अक्तूबर तक हुई। एग्जिवेशन में अनेक प्रतिभाशाली कलाकारों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। इसमें से कुछ कलाकारों की कलाकृति को विशेष प्रकार से सम्मानित किया गया। इंटरनेशनल कला प्रदर्शनी में प्रसिद्ध अभिनेता कनवल जीत सिंह मुख्य अतिथि रहे। उत्तराखंड से सिर्फ एक ही प्रतिभागी इस प्रतियोगिता से शामिल हुए।

उमेश चन्द्र पुत्र दयाल चन्द्र बागेश्वर निवासी जीतनगर मंडलसेरा में रहते है। एसएसजे अल्मोड़ा के कला वर्ग के छात्र उमेश चन्द्र ने इंटरनेशनल आर्ट एग्जिवेशन में प्रतिभाग किया। इनकी कला के लिए इन्हें विशेष रूप से सम्मानित किया गया। इन्होंने अपनी कला में अपने विचारों का चित्रण किया। इसमें इन्होंने रियाल्स्टिक, थिकिंग और क्रियेटिविटी तीनों के समायोजन से अपनी कला को नया रूप दिया। अपनी इस सफलता का श्रेय माता-पिता और प्रताप सिंह मेहता को देते हुए कहते हैं कि 12 के बाद बागेश्वर सूरजकुंड में प्रताप सिंह मेहता द्वारा संचालित फाइल आर्ट क्लास से प्रेरणा लेकर ही वह यहां तक पहुंचे। मेहता ने इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए पूर्ण सहयोग प्रदान किया। इधर, प्रताप सिंह मेहता बताते है कि उमेश अद्भुत प्रतिभा का धनि है। उसके अंदर चीजों को सीखने, समझने की अलग ही कला है। वह हमेशा कुछ नया करने को तैयार रहते है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Umesh remained top in the International Art Exhibition