DA Image
5 अगस्त, 2020|7:28|IST

अगली स्टोरी

कपकोट के दुर्गम क्षेत्रों में संचार सेवा ठप होने से परेशानी

कपकोट के दुर्गम क्षेत्रों में संचार सेवा ठप होने से परेशानी

कपकोट के दुर्गम क्षेत्रों की संचार सेवा कई दिनों से ठप पड़ी है। कर्मी का टावर चार दिन से खराब है। शामा क्षेत्र में भी बीएसएनएल सेवा चरमराई है। फरसाली के 30 ग्राम सभाओं में 15 दिन से संचार सुविधा बाधित है। लोगों के विभाग को सूचित करने पर भी समस्या सुनी नहीं गई। जिससे आक्रोशित होकर कांग्रेसियों ने बीएसएनएल के जेटीओ का घेराव किया। उन्होंने जल्द संचार सेवा बहाल नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। पूर्व विधायक ललित फस्र्वाण और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐठानी के नेतृत्व में ग्रामीण बीएसएनएल कार्यालय धमके। उन्होंने बताया कि आपदा की दृष्टि से संवेदनशील कपकोट के दुर्गम क्षेत्रों की संचार विभाग लगातार अनदेखी कर रहा है। बताया कि सरयू घाटी के कर्मी, ढोक्टीगांव, दोबाड़, बघर, पिंडर घाटी के बदियाकोट, तीख, डौला, धूर, सोराग, मल्ला दानपुर के शामा, भनार, लीती में बीएसएनएल काम नहीं कर रहा है। फरसाली, मल्लादेश, गुलेर सहित 30 अन्य ग्राम सभाओं की संचार सेवा भी एक पखवाड़े से ठप पड़ी है। जिसके चलते लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। लोगों के मोबाइल शोपीस बने हैं। वह अपने स्वजनों से बात नहीं कर पा रहे हैं। इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन पढ़ाई करने वाले बच्चों का भविष्य भी प्रभावित हो रहा हैं। उन्होंने जल्द पूरे क्षेत्र के टावरों की मरम्मत करने और संचार सेवा को जल्द बहाल कर लोगों की समस्याओं का निदान करने की मांग की। इस मौके पर नरेंद्र कोरंगा सहित अन्य ग्रामीण मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Trouble due to stalled communication service in inaccessible areas of Kapkot