DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएम ने शिक्षिका बनकर बच्चों से पूछे सवाल

शिक्षा व्यवस्था में गुणात्मक सुधार लाने को लेकर जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने विकास खंड कपकोट के राप्रावि और राबाइका ऐठाण का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने राबाइका ऐठाण में कक्षा 06 से 12 तक के कक्षाओं में जाकर बच्चों से सामान्य ज्ञान, हिन्दी, गणित के प्रश्न पूछे। जिनके बच्चों ने संतोषजनक जबाव दिए। जिलाधिकारी ने विद्यार्थियों के हिन्दी और अंग्रेजी की कापियों का अवलोकन भी किया।

जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने राप्रावि ऐठाण का निरीक्षण करने पर पाया कि विद्यालय में 26 बच्चे अध्यनरत हैं। विद्यालय में एकल अध्यापिका कार्यरत है, एकल अध्यापिका की ओर से पठन-पाठन का कार्य अच्छा होने पर संतोष व्यक्त किया। जिलाधिकारी ने दोनों विद्यालयों के कार्यरत शिक्षक/शिक्षिकाओं को बच्चों के पठन-पाठन में विशेष रूचि रखने, मेहनत-लगन से पढ़ार्इ करने और विद्यालय परिसर में साफ-सफार्इ रखने के निर्देश दिये। प्रधानाध्यापिका ऐठाण ने जिलाधिकारी को बताया कि पायल कक्षा 05 की छात्रा है। जिसके पिता की मृत्यु हो चुकी है, माता भी मानसिक रूप से अस्वस्थ हैं। जिसका कोर्इ संरक्षक नहीं है। उन्होंने छात्रा को सहायता प्रदान करने के मांग की। इस संबंध में जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को जिला समाज कल्याण अधिकारी से वार्ता कर बालिका को अनुमन्य आर्थिक सहायता देने के निर्देश दिये। यहां उप जिलाधिकारी कपकोट रवीन्द्र सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी हरीश चन्द्र सिंह रावत, तहसीलदार मैनपाल सिंह सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: The question asked by the DM as a teacher