DA Image
28 दिसंबर, 2020|5:45|IST

अगली स्टोरी

घोड़ागाड़ हादसे का लापता चालक पहुंचा घर

default image

कमस्यारघाटी के घोड़ागाड़ सड़क हादसे का लापता चालाक रात में अपने गांव सुरक्षित पहुंच गया है। वाहन के नीचे दबी महिला का शव रात ढाई बजे निकाला गया। दूसरे दिन शव का पंचनामा भरकर उसे परिजनों को सौंप दिया। इसके अलावा सीएचसी कांडा में भर्ती एक घायल को हायर सेंटर रेफर कर दिया है।

मालूम हो कि रविवार की रात बेरीनाग से सवारी लेकर आ रही जीप घोड़ागाड़ के समीप दुर्घटाग्रस्त होकर खाई में गिर गई। घोड़ागाड़ के पास जीप खाई में गिर गई। हादसे में गोपुली देवी पत्नी श्याम लाल (65) भिनगड़ी पिथौरागढ़ निवासी वाहन के नीचे दब गई और उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल घायल प्रेम प्रकाश पुत्र बहादुर राम (47) निवासी टाना सिमकुना, रोशन कुमार पुत्र जीवन लाल (20) निवासी टाना सिमकुना तथा सुरेंद्र कुमार पुत्र श्याम लाल, (36) भिनगड़ी पिथौगढ़ कपूरी तथा आसपास के गांव के लोगों ने खाई से निकालकर सड़क तक पहुंचाया। बाद में निजी वाहनों से उन्हें सीएचसी कांडा पहुंचाया। चालक अजय कुमार पुत्र मुकुट विहारी (28) सिमकुना निवासी गायब हो गया। रात में ही एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने रात दो बजे वाहन के नीचे दबी महिला को बाहर निकाला, जबकि चालक घटनास्थल से पैदल अपने गांव पहुंच गया। सोमवार को पुलिस ने मृतका का पोस्टमार्टम कर उसे परिजनों को सौंप दिया। कांडा अस्पताल में भर्ती रोशन लाल को हायर सेंटर रेफर कर दिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The missing driver of the horse racing incident reached home