DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आपदा प्रभावित क्षेत्रों की सड़कें जल्द खोलें: डीएम

आपदा प्रभावित क्षेत्रों की सड़कें जल्द खोलें: डीएम

डीएम रंजना राजगुरू ने कपकोट के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का पैदल भ्रमण किया। उन्होंने लोनिवि एवं पीएमजीएसवार्इ से जुड़े अधिकारियों को आपदा के कार्यों की निरंतर मानिटरिंग करने के निर्देश दिए। साथ ही जहां पर सुरक्षा दीवार एवं अन्य मरम्मत का कार्य किया जाना है उसे भी अविलम्ब शुरू करने को कहा। डीएम ने कहा कि इन कार्यों में लापरवाही कतर्इ बर्दाश्त नहीं होगी। इसलिए सभी अधिकारी आपदा प्रभावित क्षेत्रों का पुनर्निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता व प्राथमिकता के साथ करना सुनिश्चित करें।

डीएम ने तहसील कपकोट के तहत आपदा प्रभावित क्षेत्रों का पैदल भ्रमण कर वर्षा से हुए नुकसान का जायजा लिया। इसमें गुलम, नरगड़ा, परगड़ा, गडेरा, खार्इबगड़ एवं लीली गैनाड़ के मोटर मार्गों का निरीक्षण किया। उन्होंने नरगड़ा-गडेरा के लोनिवि के मोटर मार्गों का निरीक्षण करने पर पाया कि किमी 01, 02, 03 एवं 10 में अधिक वर्षा के कारण जगह-जगह भू-स्खलन एवं मलबा व पत्थर सड़क में आये है। वर्तमान में यह मोटर मार्ग जालेख में अत्यधिक भू-स्खलन व मलबा आने के कारण बन्द हैं। किमी 03 चकरीधार में भूस्खलन के कारण सड़क टूटी है इसमें सड़क के नीचे एवं सड़क के ऊपर दोनों ओर भूस्खलन हुआ है इसमें डीएम ने संबंधित विभाग को यथाशीघ्र कार्य शुरू करने के निर्देश दिये। साथ ही सड़क में गड्ढे एवं नालियां, कलमठ को ठीक करने को भी कहा तथा सड़क में आ रहे झाडियों को भी यथाशीघ्र कटवाने के निर्देश दिये। किमी 10 में एक पेड़ सड़क पर आया है उसे आज ही हटाने को कहा। उन्होंने अधिक पानी के रिसाव वाले स्थानों पर मोटरमार्गों पर सीसी मार्ग बनाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी कपकोट रवीन्द्र सिंह बिष्ट, तहसील कपकोट मैनपाल सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी हरीश चन्द्र सिंह रावत सहित लोनिवि एवं पीएमजीएसवार्इ के अधिकारी मौजूद रहे।

चार परिवारों का किया विस्थापन

बागेश्वर। ग्राम पंचायत फुलर्इ में भूस्खलन होने के कारण 04 परिवारों को हो रहे खतरे को देखते हुए डीएम के निर्देशन पर उप जिलाधिकारी कपकोट के द्वारा 04 परिवारों को अन्य सुरक्षित स्थान पर विस्थापन कर प्रत्येक परिवार को प्रतिमाह चार हजार रुपये किराया दिया जा रहा है। डीएम ने खार्इबगड़ के निरीक्षण करने पर देखा कि अत्यधिक वर्षा के कारण खार्इबगड़ गधेरे में स्थापित बिजली लाइन क्षतिग्रस्त हुर्इ है वर्तमान में भी खार्इबगड़ में निरंतर चीड़ के पेड़ों का गिरना एवं भूस्खलन जारी है।

कार्यों की गुणवत्ता से समझौता नहीं

बागेश्वर। जिलाधिकारी ने पीएमजीएसवार्इ द्वारा संचालित लीली गैनाड़ मोटर मार्ग का निरीक्षण करने पर देखा कि जगह-जगह सड़क में मलबा आने तथा भूस्खलन के कारण यह सड़क लीली गैनाड़ में स्थापित पुल के निकट अत्यधिक सड़क टूटी है जिसमें वर्तमान में भी भूस्खलन जारी है। जिसमें डीएम ने ईई लोनिवि व पीएमजीएसवार्इ को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि पुन:निर्माण कार्यों को यथाशीघ्र शुरू करें। कार्यों की गुणवत्ता पर कोर्इ समझौता नहीं किया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Open the roads of the disaster affected areas soon