Missed the Armed Forces sacrifice on Army Day - सेना दिवस पर सशस्त्र सेनाओं के त्याग को याद किया DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना दिवस पर सशस्त्र सेनाओं के त्याग को याद किया

सेना दिवस पर सशस्त्र सेनाओं के त्याग को याद किया

जिले में सशस्त्र सेना झंडा दिवस धूमधाम से मनाया गया। एडीएम राहुल कुमार गोयल ने सशस्त्र सेनाओं द्वारा किए गए बलिदान एवं त्याग को याद किया। लोगों से जागरूक होकर उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर उदारता पूर्वक अधिक से अधिक धनराशि दान करने की अपील की। उन्होंने कहा कि सशस्त्र सेनाओं द्वारा देश की रक्षा के लिए जो बलिदान एवं त्याग किया है, आज हमें उन्हें याद करने का दिन है।

शुक्रवार को जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी लेफ्टिनेंट गंगा सिंह बिष्ट ने अपर जिलाधिकारी को टोकन फ्लैग एवं लापेल पिन लगाकर अर्थ संग्रह के कार्य का शुभारंभ किया। इसके बाद उन्होंने पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार को उनके कार्यालय जाकर बधार्इ दी और झंडा लगाकर सम्मानित किया। जनपद के अनेक शासकीय एवं अर्द्ध शासकीय कार्यालयों में सशस्त्र सेना झंड दिवस के अवसर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा झंडा स्टीकर लगाए गए तथा उदारता पूर्वक शहीदों के आश्रितों की सहायतार्थ धनराशि दान की गर्इ। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी बिष्ट ने बताया कि प्रत्येक वर्ष झंडा दिवस 7 दिसंबर को मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रथम विश्वयुद्ध में शहीद हुए सैनिकों के सम्मानार्थ यह दिवस मनाया जाता है। आज यह दिन युद्ध में शहीद एवं घायल हुए सैनिकों को सम्मान देने का है। इस दिन प्रतीक स्वरूप झंडे, कार स्टीकर बांटकर इनके बदले आर्थिक योगदान प्राप्त किया जायेगा। इस प्रकार संग्रहित धनराशि का उपयोग शहीद सैनिकों के परिवारों के आर्थिक कष्टों के निवारणार्थ एवं सशस्त्र सैनिकों के कल्याणार्थ किया जाता है। उन्होंने बताया कि दान दी गयी धनराशि भारत सरकार के अनुसार भारतीय आयकर अधिनियम की धारा 15 बी के अंतर्गत आयकर से मुक्त रखा गया है। इसके अलावा एनसीसी कैडेट्स ने लोगों का झंडा लगाकर धन संग्रह किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Missed the Armed Forces sacrifice on Army Day