DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बागेश्वर में आपसी संघर्ष से हुई थी नर तेंदुए की मौत

बागेश्वर में आपसी संघर्ष से हुई थी नर तेंदुए की मौत

गैरखेत में एक नर तेंदुए की आपसी संघर्ष से मौत हो गई। वन विभाग ने तेंदुए का शव पोस्टमार्टम के बाद जला दिया है। गैरखेत गांव में गत दिवस आपसी संघर्ष से जख्मी नर तेंदुआ जिसकी उम्र करीब 19 महीने बताई जा रही है। इलाज समय से नहीं मिलने से मर गया। वन विभाग की टीम ने उसे रातभर कपकोट आरओ कार्यालय में सुरक्षित रखा। सुबह पशु चिकित्सकों ने उसका पोस्टमार्टम किया। नर तेंदुआ के शरीर में कई जख्म थे। उसकी मौत रक्तस्राव के कारण हुई। इसके अलावा वह भूखा भी था। प्रभागीय वनाधिकारी आरके सिंह ने बताया कि तेंदुए को पोस्टमार्ट के बाद जला दिया गया है। उन्होंने बताया कि तेंदुए की मौत आपसी संघर्ष से ही हुई। उसके गले में चोट थी। रक्तस्राव हो गया। उन्होंने बताया कि वह जवान हो रहा था। एरिया डिसाइड करने के लिए इस तरह के आपसी संघर्ष होते हैं। विभाग की टीम को सूचना मिलते ही घटना स्थल भेजा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Male leopard death due to mutual conflict