DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरिमोहन का नाम नमो बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज

गणितीय पजल हल करने के रिकॉर्डधारी हरिमोहन ऐठानी ने एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली है। उन्हें प्रतिष्ठित संस्था नमो बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने अपनी जगह बनायी है। उन्हें यह सम्मान महान गणितज्ञ धराचार्य के द्विघातीय समीकरण के मूल के सूत्र का समीकरणीय विधि से सत्यापन करने के लिए दिया गया है। संस्था के संस्थापक सिद्धार्थ जैन ने उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किया। अब तक वह कुल 16 प्रतिष्ठित रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं।

ऐठाण गांव के हरिमोहन को गणित विषय से लगाव है। वह गणित के जटिल और अनसुलझे तथ्यों को सत्यापित करने के लिए सदैव प्रयासरत रहते हैं। गणित के रीजनिंग प्रश्नों के लिए ट्रिक व सूत्र खोजना, स्वाध्याय से सूत्र खोजना आदि कार्य उन्हें खूब पसंद है। जिसके चलते वह कई प्रतिष्ठित रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं। उन्हें वर्ष 2014 में लिम्का बुक ऑफ नेशनल रिकॉर्ड, 2015 में लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, वंडर बुक ऑफ इंटरनेशनल रिकॉर्ड, निवर्सल रिकॉर्ड फोरम वर्ल्ड रिकॉर्ड, इंडियन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड वर्ष, नेशनल जूरी अवार्ड, 2016 में ऑनलाइन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड वर्ष, मैथ जीनियस वर्ल्ड रिकॉर्ड वर्ष, एवरेस्ट बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, 2017 में मेगास्टार बुक ऑफ इंटरनेशनल रिकॉर्ड, 2018 में असम बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, कलाम बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड और 2019 में द बुक ऑफ केरला, पांडिचेरी बुक ऑफ रिकार्ड्स, एक्सक्लूसिव बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड प्राप्त हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि जल्द ही दो राष्ट्रीय स्तर के रिकॉर्ड भी वह अपने नाम करने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Harimohan s name recorded in Namo Book of World Records