DA Image
1 नवंबर, 2020|3:14|IST

अगली स्टोरी

हर घर जल पहुंचाने की कवायद में जुटे

हर घर जल पहुंचाने की कवायद में जुटे

डीएम विनीत कुमार ने जल जीवन मिशन योजना की समीक्षा बैठक में योजना के तहत 2024 तक हर घर को स्वच्छ पेयजल कनेक्शन देने के लिए बनाई गई रणनीति पर चर्चा की। उन्होंने जल निगम, जल संस्थान और स्वजल से निर्धारित लक्ष्य को समय पर प्राप्त करने को कहा। साल 2020-21 के लिए निर्धारित किए गए 116 राजस्व गांवों के 7272 के लक्ष्य को भी अनिवार्य रूप से हासिल करने के निर्देश दिए।

समीक्षा बैठक की अध्यक्षता में डीएम ने चयनित गांवों का एनजीओ के माध्यम से सर्वेक्षण कराकर विलेज एक्शन प्लान व डीपीआर का कार्य समयावधि में तैयार करने और धनराशि स्वीकृति के लिए शासन को भेजने को कहा। बजट आवंटन होने के तत्काल बाद काम निविदा की प्रक्रिया शुरू कराने के भी निर्देश दिए। तीनों विभागों को ईमानदारी और निष्ठा से काम कर वार्षिक लक्ष्य को प्राप्त करने के निर्देश दिए। बैठक में 66 पेयजल योजना के प्रस्ताव भी पेश किए गए। इसमें जल निगम की 42 योजनाओं के लिए 2682.18 लाख, जल संस्थान के 15 योजनाओं के लिए 265.37 लाख और स्वजल की नौ योजनाओं के लिए 228.58 लाख की धनराशि का प्रस्ताव पेश किया गया। बैठक में सीडीओ डीडी पंत, सीएमओ डॉ. बीडी जोशी, ईई जल संस्थान एमके टम्टा, पेयजल निगम सीपीएस गंगवार, आरईएस रमेश चंद्रा, सिंचाई एके जॉन आदि मौजूद रहे।

इस साल मिलेगा 7272 परिवारों को नल

बागेश्वर। अपर परियोजना निदेशक शिल्पी पंत ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत 2020-21 से 2023-24 तक 25156 परिवारों को हर घर नल, हर घर जल योजना से जोड़ा जाना है। जिसमें जल निगम 26879, जल संस्थान 8635 और स्वजल 16642 परिवारों को लाभान्वित करेगा। इस साल जिले में 7272 कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके तहत जल निगम 40 गांवों में 3000, जल संस्थान 39 गांवों में 2538 और स्वजल 37 गांवों में 1734 कनेक्शन देगा। इसके सापेक्ष अब तक जल निगम 1317, जल संस्थान 750 और स्वजल 34 सहित कुल 2101 लोगों को योजना का लाभ दिया जा चुका है। बाकी का काम चल रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Every house is engaged in an exercise to deliver water