DA Image
25 सितम्बर, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने काले फीते बांधे

default image

डॉक्टरों के काम में प्रशासनिक दखल के विरोध में जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने बाहों में काला फीता बांधकर प्रदर्शन किया। उन्होंने लंबे समय से की जा रही पांच सूत्रीय मांगों को जल्द पूरा करने को कहा। उन्होंने समस्या हल नहीं होने पर उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी।

जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया कि वह लंबे समय से डॉक्टरों के एक दिन का वेतन नहीं काटे जाने और पीजी में गए डॉक्टरों को पूरा वेतन देने की मांग सरकार से कर रहे हैं। इसके बावजूद उनकी समस्याओं की लगातार अनदेखी की जा रही है। उन्होंने डॉक्टरों के काम में हो रहे प्रशासनिक हस्तक्षेप का भी विरोध किया। उन्होंने कहा कि लगातार पत्राचार करने के बावजूद उनकी मांगों का संज्ञान नहीं लिया जा रहा है। इससे डॉक्टरों को मजबूर होकर बाहों में काला फीता बांधकर विरोध करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि सात दिन तक डॉक्टर काला फीता बांधकर विरोध दर्ज कराएंगे। इसके बाद भी उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो आठवें दिन सामूहिक इस्तीफा दिया जाएगा। उन्होंने जल्द सभी मांगों को पूरा करने को कहा। ताकि सेवा में किसी तरह का व्यवधान पैदा न हो सके। इस मौके पर चिकित्सक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ. मनीष पंत, डॉ. राजीव उपाध्याय, डॉ. प्रदीप चैधरी, डॉ. एनएस टोलिया, डॉ. एंजल पटेल, देवेश तिवारी, डॉ. एलएस बृजवाल आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:District hospital doctors tied black ribbon