DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खाती के बच्चों को बताए वनाग्नि के नुकसान

खाती के बच्चों को बताए वनाग्नि के नुकसान

वन विभाग ने राजकीय इंटर कॉलेज खाती में जागरूकता अभियान चलाया। इस दौरान उन्होंने बच्चों को वनाग्नि के नुकसान बताए। साथ ही उन्हें जंगल बचाने और अन्य लोगों को भी जागरूक करने को प्रेरित किया।

उप वन क्षेत्राधिकारी शंकर दत्त पांडे ने वनाग्नि सुरक्षा गोष्ठी की अध्यक्षता की। उन्होंने बताया कि हर साल आग से वनों को भारी क्षति पहुंचती है। इससे पर्यावरण को भी नुकसान होता है। धुंए से कई तरह की बीमारियां फैलती हैं। आग से क्षेत्र के वनों में पाई जाने वाली जड़ी-बूटी सहित अन्य चारा पत्ती नष्ट हो जाती है। कहा कि ग्रामीणों के सहयोग के बिना जंगलों को बचा पाना असंभव है। उन्होंने बच्चों से अपने घर और आसपास के लोगों को वनों को बचाने के लिए प्रेरित करने को कहा। इस दौरान उन्होंने कहा कि सामूहिक प्रयास और जागरूकता वनों को आग से बचा पाएगी। कार्यक्रम में बच्चों को वनाग्नि सुरक्षा से संबंधित पोस्टर और पंपलेट वितरित किए गए। साथ ही वनाग्नि सुरक्षा की शपथ भी दिलाई गई। यहां विद्यालय के शिक्षक और अन्य वन कर्मी भी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Disadvantages to the children of accounts