ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड बागेश्वरबंदरों की समस्या से निजात दिलाने की मांग उठाई

बंदरों की समस्या से निजात दिलाने की मांग उठाई

गरुड़। बंदर भगाओ खेती बचाओ जन अभियान समिति ने मुख्यमंत्री से चुनावी सभा के दौरान की गई बात पर शीघ्र अमल करने की मांग की है। समिति ने मुख्यमंत्री को...

बंदरों की समस्या से निजात दिलाने की मांग उठाई
default image
हिन्दुस्तान टीम,बागेश्वरWed, 19 Jun 2024 04:15 PM
ऐप पर पढ़ें

गरुड़, संवाददाता। बंदर भगाओ खेती बचाओ जन अभियान समिति ने मुख्यमंत्री से चुनावी सभा के दौरान की गई बात पर शीघ्र अमल करने की मांग की है। समिति ने मुख्यमंत्री को याद दिलाते हुए शीघ्र बंदरों की समस्या से निजात दिलाने की मांग की है।
मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में बंदर भगाओ खेती बचाओ जन अभियान समिति के संरक्षक और उच्च न्यायालय के अधिवक्ता डीके जोशी ने कहा है कि समिति ने इस वर्ष मकर संक्रांति से बंदर भगाओ खेती बचाओ आंदोलन शुरू किया। जो चरणबद्ध तरीके से किया गया। लेकिन लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के चलते आंदोलन स्थगित करना पड़ा। गरुड़ की एक चुनावी सभा के दौरान रामलीला मैदान गरुड़ में प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा था कि सरकार बंदरों की समस्या के प्रति गंभीर है। शीघ्र बंदरों की समस्या से निजात दिलाई जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री से अपनी चुनावी सभा के दौरान गई बात पर अमल करने और बंदरों की समस्या से शीघ्र निजात दिलाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि बंदरों ने आज खेती चौपट कर दी है। भगाने पर बंदर अब काटने को भी आ रहे हैं। अब तक बंदरों के हमले में दर्जनों लोग घायल हो चुके हैं। बंदरों ने लोगों का जीना दूभर कर दिया है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि पंद्रह दिनों के भीतर यदि बंदरों की समस्या से निजात नहीं मिली, तो वे कत्यूर की जनता को साथ लेकर पुनः आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।