DA Image
1 अगस्त, 2020|3:50|IST

अगली स्टोरी

बागेश्वर में सादगी से मनाई बकरीद

default image

कोरोना महामारी के चलते इस बार तीज-त्योहार सादगी के साथ मनाए जा रहे हैं। मुस्लिम भाइयों ने भी बकरीद सादगी के साथ मनाई। ईदगाह व मस्जिद की बजाय घरों पर ही ईद की नमाज अता की। अल्लाहताला से अमन और चैन की दुआ मांगी। कोरोना महामारी का जल्द खात्मा करने की भी दुआ मांगी गई।

हर साल बकरीद से पहले बाजारों में रौनक उमड़ जाती थी। त्योहार के दिन सुबह से ही मुस्लिम भाई सफेद कपड़ों में इबादतगाह की ओर जाते और नमाज पड़ते। इसके बाद जानवर की कुर्बानी की जाती। घरों में विभिन्न प्रकार के लजीज पकवान बनाए जाते। इस बार कोरोना के चलते ईद पूरी सादगी और सतर्कता के साथ मनाई गई। मुस्लिम समाज के लोगों ने खुद की व समाज की बेहतरी के लिए त्योहार सादगी के साथ मनाया। घरों में ही सामाजिक दूरी का पालन कर नमाज अता की गई। बाजारों में भी अन्य सालों की तरह भीड़ देखने को नहीं मिली। उन्होंने सोशल मीडिया या फोन के माध्यम से एक-दूसरे को बधाइयां दी। घर पर ही पकवान बनाकर परिवार के साथ त्योहार का लुत्फ उठाया। उन्होंने खुदा से जल्द दुनिया को पहले की तरह सामान्य और खुशनुमा बनाने की दुआ मांगी। ताकि सब लोग अमन और चैन से महामारी की चिंता छोड़कर त्योहारों का लुत्फ उठा सकें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bakrid celebrated with simplicity in Bageshwar