DA Image
22 जनवरी, 2021|6:47|IST

अगली स्टोरी

भ्रूण हत्या रोकने को आशा, आंगनबाड़ी वर्कर और पीएलवी मिलकर करेंगे कार्य

भ्रूण हत्या और बाल विवाह रोकने के संबंध में ब्लॉक कार्यालय सभागार में कार्यशाला हुई। विधिक सेवा प्राधिकरण के प्रदेश सचिव ज्ञानेंद्र शर्मा की मौजूदगी में भ्रूण हत्या रोकने के लिए रोडमैप तैयार किया गया। इस बुराई पर अंकुश लगाने के लिए आशा वर्कर्स, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और पैरा लीगल वॉलंटियर को अहम जिम्मेदारी सौंपी गई।

कार्यक्रम में प्राधिकरण के प्रदेश सचिव शर्मा ने जिले के लिंगानुपात में बालिकाओं का बेहतर अनुपात होने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि समाज से भ्रूण हत्या को समाप्त करने के लिए बेहतर योजना से कार्य करना होगा। उन्होंने आशा वर्कर्स से किसी महिला के गर्भवती होने की जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकत्री और पीएलवी को देने को कहा। इससे यह आंकड़ा जिला विधिक प्राधिकरण और बाल विकास के पास पहुंचेगा। इसके आधार पर बच्चों के जन्म के समय भ्रूण हत्या का आंकड़ा आसानी से जुटाया जा सकेगा और इस बुराई को रोकने में मदद मिलेगी। उन्होंने भ्रूण हत्या के दोषियों को कड़ी सजा देने की भी बात कही। वहीं बाल विवाह को समाप्त करने के लिए शिक्षा को जरूरी बताया। उन्होंने जिले में बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने को कहा। बाल विकास विभाग के कार्यक्रम अधिकारी राजेंद्र प्रसाद बिष्ट ने बाल विवाह, नाबालिग लड़कियों के विवाह रोकने के लिए हो रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने भ्रूण हत्या व अन्य बुराइयों को लेकर चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रमों के बारे में भी बताया। कार्यक्रम में राज्य विधिक सेवा के विशेष कार्याधिकारी मोहम्मन युनूस साह ने भ्रूण हत्या, बाल विवाह की कानूनी जानकारी दी। इस मौके पर जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष गोविंद सिंह भंडारी, मोहम्मद यूसुफ विशेष कार्याधिकारी, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, नैनीताल, राजेंद्र विष्ट, जिला कार्यक्रम अधिकारी, खंड विकास अधिकारी आलोक भंडारी, ओम प्रकाश तिवारी आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Asha Anganwadi workers and PLV will work together to stop feticide