DA Image
14 अगस्त, 2020|7:08|IST

अगली स्टोरी

कपकोट में आकाशीय बिजली गिरने से कई घरों के उपकरण फुंके

कपकोट में आकाशीय बिजली गिरने से कई घरों के उपकरण फुंके

तहसील के सुमगड़ गांव में आकाशीय बिजली गिरने से कई ग्रामीणों के बिजली के उपकरण फुंक गए। इससे ग्रामीण परेशान हो गए हैं। उन्होंने प्रशासन से किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देने की मांग की है। इससे पूर्व तीन दिन पहले भी देवलचौंरा के पास लोगों के घरों के बिजली उपकरण जल गए थे। वहीं इस दौरान एक पशुपालक के बैल की भी जलकर मौत हो गई।

तहसीलदार ने बताया कि गुरुवार दोपहर करीब ढाई बजे सुमगड़ गांव में एकाएक आकाशीय बिजली गिर गई। इस घटना में मान सिंह पुत्र माधो सिंह का बैल मर गया। पशुपालक को जंगल में बैल जलकर मरा मिला। इसकी जानकारी उन्होंने प्रशासन को दी। इधर ग्रामीणों ने बताया कि आकाशीय बिजली के कारण उनके घरों में लगे बिजली के उपकरण फुंक गए हैं। बिजली के मीटर, मेन स्विच के अलावा मिक्सी आदि जल गए हैं। उन्होंने प्रशासन से पशुपालक और लोगों को मुआवजा देने की मांग की है। इधर तीन दिन पहले भी आकाशीय बिजली से देवलचौंरा में भी लोगों के घरों के उपकरण जल गए थे। आए दिन आकाशीय बिजली गिरने से लोग दहशत में हैं।

मौसम खराब होने पर बरतें सावधानी

बागेश्वर। बिजली विभाग का कहना है कि मौसम खराब होने या फिर आकाशीय बिजली गिरने पर सावधानी बरती जाय तो नुकसान से बचा जा सकता है। ऊर्जा निगम के ईई भाष्कर पांडे ने बताया कि अधिक से अधिक घरेलू उपकरण के स्विच बंद कर दें। दिन में मेन स्विच बंद रखें। स्विचों को सीधे ना छुए। सूखी लकड़ी ,प्लास्टिक पेन से बंद करें । इसके बाद बिजली उपकरणों को सर्किट से अलग कर लें । लैपटॉप, कम्प्यूटर, मोबाइल, फ्रिज, वाशिंग मशीन को सर्किट से अलग करने तक न छुएं। घरों में हुई अर्थिंग के अर्थरेजिस्टेंस की जांच किसी दक्ष इलेक्ट्रीशियन से कराएं ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Aerial lightning in Kapkot blew the equipment of many houses