DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मजदूरों को दी उनके अधिकारों की जानकारी

नेशनल प्लान ऑफ एक्शन के तहत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने शुक्रवार को विकास भवन में साक्षरता शिविर का आयोजन किया। शिविर के दौरान प्राधिकरण के अधिकारियों ने मेडिकल कालेज के निर्माण में लगे मजदूरों को उनके अधिकारों और कर्तव्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। शिविर की अध्यक्षता करते हुए जिला सचिव डॉ. शेष चंद्र ने कहा कि सरकारी और गैर सरकारी भवनों के निर्माण जैसे सड़क, पुल, तटबंध, सुरंग, नहर, जलाशय और अन्य कार्यों में लगे कामगार मजदूर, मिस्त्री, प्लम्बर और अन्य कर्मकारों की श्रेणी में आते हैं। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों में लगे श्रमिकों को अगर श्रम योजनाओं का लाभ लेना है तो उन्हें अपना पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। इसके लिए श्रमिकों को 90 दिन के निर्माण श्रमिक के रूप में कार्य करने का प्रमाण पत्र देना होगा। उन्होंने कहा कि पंजीयन के बाद श्रमिक पेंशन, अनुदान, छात्रवृत्ति या फिर बैंक लोन जैसी सुविधाओं का लाभ उठा सकता है। शिविर के दौरान श्रमिकों को ठका मजदूरी, बंधुवा मजदूरी, क्षतिपूर्ति कानून, भवन निर्माण व नाल्सा की विभिन्न लाभदायक योजनाओं के बारे में भी जानकारी दी गई। शिविर में अभिलाषा इंटरप्राइजेज के राजेंद्र जोशी के अलावा प्राधिकरण के पीएलवी भी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Workers' knowledge of their rights