DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अल्मोड़ा नगर में तीन दिन से लोगों को नहीं मिल रहा पानी

अल्मोड़ा नगर में तीन दिन से लोगों को नहीं मिल रहा पानी

अल्मोड़ा नगर के कई क्षेत्रों में गुरुवार को भी पेयजल आपूर्ति बाधित रही। लोगों को पीने के पानी के लिए धारे और नौलों में लाइन लगानी पड़ी। लोगों की परेशानियों का मुख्य कारण जल संस्थान के करीब 37 साल पुराने बूढ़े हो चुके पंप और 19 साल पुरानी जर्जर सप्लाई लाइनें हैं। दशकों पुरानी इस घिसी पिटी व्यवस्था के चलते प्रतिदिन 14 एमएलडी पानी की आवश्यकता वाले अल्मोड़ा नगर को केवल 8 एमएलडी पानी ही मुहैया हो पा रहा है। कोसी स्थित पंप हाउस के तीनों पंप उस समय दगा दे जाते हैं जब तेज बारिश के कारण कोसी नदी में सिल्ट आने लगती है, पंप खराब होने के डर से कर्मचारियों को मजबूरी में पंप बंद करने पड़ते हैं, जिसका खामियाजा नगर की जनता को भुगतना पड़ता है। पिछले दिनों हुई मूसलाधार बारिश से कोसी नदी में भारी मात्रा में गाद जमा हो गई और 2 लाख की आबादी की प्यास बुझाने वाला पानी गंदा हो गया। गंदे पानी को फिल्टर करने में पंप हाउस कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी, लेकिन इसके बाद भी नगर से लगे कई क्षेत्रों के लोग प्यासे ही रहे। यही हाल बुधवार और गुरुवार को भी रहा। पेयजल आपूर्ति न हो पाने से लोगों को पानी की तलाश में दिन भर इधर-उधर भटकना पड़ा। नगर के मकेड़ी, गोलनाकरड़िया, एनटीडी, पांडेखोला, करबला, आफिसर्स कॉलोनी, दुगालखोला समेत कई इलाकों में पर्याप्त पेयजल आपूर्ति नहीं हो सकी। बोले अधिकारी नदी में पानी गंदा होने से फिल्टर करने में दिक्कत हो रही है। इस वजह से पानी की सुचारु आपूर्ति नहीं हो पा रही है। मुकेश कुमार, सहायक अभियंता जल संस्थान

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Water is not available to people in the city for three days