ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड अल्मोड़ाशराब की दुकान के विरोध में ग्रामीणों ने दिया धरना

शराब की दुकान के विरोध में ग्रामीणों ने दिया धरना

अल्मोड़ा के काफलीखान में शराब की दुकान के विरोध में खोला मोर्चा अल्मोड़ा के काफलीखान में शराब की दुकान के विरोध में खोला...

शराब की दुकान के विरोध में ग्रामीणों ने दिया धरना
हिन्दुस्तान टीम,अल्मोड़ाTue, 28 May 2024 06:30 PM
ऐप पर पढ़ें

दन्या, संवाददाता। धौलछीना ब्लॉक के काफलीखान चौराहे में खुली शराब की दुकान के विरोध में महिलाओं का आंदोलन तेज हो गया है। मंगलवार को शराब की दुकान के विरोध में ग्रामीण दुकान के सामने ही धरने पर बैठे। शासन प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया।
अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ हाइवे में स्थित काफलीखान चौराहे पर शराब की दुकान खुलने से ग्रामीणों और महिलाओं में नाराजगी है। मंगलवार को ग्रामीणों ने शराब की दुकान के विरोध में प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर नाराजगी व्यक्त की। शराब नही शिक्षा दो, मुझे शराब नही शिक्षा चाहिए, उत्तराखंड सरकार शर्म करो जैसे नारों से प्रशासन को चेताया। कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में शराब की दुकान खुलने का कई बार विरोध कर चुके हैं। इसके लिए प्रशासन को ज्ञापन भी सौंपा गया था। विरोध के बाद प्रशासन ने आबकारी विभाग से वार्ता करने और समस्या का समाधान निकालने की बात कही थी। इसके बाद ग्रामीणों की ओर से जुलूस भी निकाला गया था, लेकिन अब तक प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो ग्रामीण और अधिक उग्र प्रदर्शन के लिए बाध्य होंगे।

ये रहे मौजूद

यहां प्रदर्शन में चंदन लाल, जगदीश राम, पूरन राम, हरीश टम्टा, लक्ष्मण कुमार, राजेंद्र प्रसाद, देव राम, सुरेश राम, पूरन सिंह, जगरनाथ प्रसाद, अरूण सिंह, ज्ञान सिंह, जगदीश राम, दिनेश लाल, गिरीश राम, सरुली देवी, जोगा राम, देवकी देवी, गुड्डी देवी, तारा देवी, दुर्गा देवी, भगवती देवी, जोग्याणी देवी, किरन देवी, चम्पा देवी, रघुली देवी, दीपक कुमार, गणेश राम, कैलाश चंद्र, तुलसी देवी आदि रहीं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।