DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैमजे में छात्रों को बताए उनके बुनियादी अधिकार

जिला न्यायाधीश डा़ ज्ञानेंद्र कुमार शर्मा के निर्देशन में विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से रैमजे इंटर कॉलेज में जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें छात्रों को नशा उन्मूलन, पोक्सो, शिक्षा का अधिकार के संबंध में कई जानकारिया दी गई। शिविर की अध्यक्षता करते हुए सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण डा़ शेष चंद्र ने बताया कि नवयुवकों, किशोरों एवं बालकों में ड्रग तस्करी के दुरुप्रयोग की असामान्य बढ़ोतरी गंभीर व जटिल समस्या है। जो कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य एवं अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित करती है। उन्होंने कहा कि आज करीब 7 करोड़ लोग इसके आदी एवं 17 करोड़ लोग इसकी गिरफ्त में है। इस दौरान उन्होंने छात्रों को बाल श्रम, पोक्सो, शिक्षा का अधिकार एवं अन्य कानूनों व योजनाओं की जानकारी दी। बताया कि बिना हेलमेट एवं दुपहिया वाहनों में दो से अधिक लोगों को बैठाना भी अपराध की श्रेणी में आता है। पीएलवी दीपा पांडे ने छात्रों को विधिक सहायता प्राप्त करने के अधिकारों एवं निशुल्क विधिक सहायता किस प्रकार दी जाती है इसके बारे में अवगत कराया। विद्यालय के प्रधानाचार्य विनय विल्सन ने भी छात्रों को विधिक जानकारियां दी। शिविर में प्रेम सुख, एनए खान, एसएल पवार, पंकज पौल मैटनी, अनुप कुमार, बसंत पांडे, विवेक जोजफ, विनीता आर्या, नीता नेगी समेत कई शिक्षक मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Their basic rights to students in Ramzad