The Ganesha is of Ganesha s room - दैणा होया खोली का गणेशा हो... DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दैणा होया खोली का गणेशा हो...

दैणा होया खोली का गणेशा हो...

कुमाऊं विश्वविद्यालय सोबन सिंह जीना परिसर के ऑडिटोरियम में आयोजित तीन दिवसीय सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘युवा उत्सव का बुधवार को रंगारंग कार्यक्रमों के साथ समापन हुआ। अंतिम दिन विभिन्न संकायों के कलाकारों ने लोक संस्कृति को पिरोते हुए नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी। कार्यक्रम से पूर्व संगीत विभाग की छात्राओं ने कुलगीत के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में कला संकाय के कलाकारों ने कुमाऊंनी-गढ़वाली लोकगीत जै नंदा, जै भगौती नंदा , गोपुली लस्क कमर छटका छोड़ा, गांगुली तीलै धारू बोला, अल्मोडे की बीच बजार चाहा को होटला आदि लोकगीतों के माध्यम से हुडका, जागर नृत्य, झोड़ा, चांचरी की उत्कृष्ट प्रस्तुति पेश की। शिक्षा संकाय के कलाकारों ने दैणा होया खोली का गणेशा हो, ऐ जाणू मांठू-मांठू म्यार गौ बाटू लोकनृत्य के माध्यम से गढ़वाली संस्कृति की सराहनीय प्रस्तुति दी। विज्ञान संकाय के कलाकारों ने कुमाऊंनी लोरी, हुड़किया बौल आदि को नृत्य में पिरोकर उत्तराखंड की संस्कृति का प्रदर्शन किया। उन्होंने झोड़ा, चांचरी, छपेली से दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। वाणिज्य संकाय के कलाकारों ने हिट मधु उत्तरैणी कौतिक जूल्यों, बाग्यसरा बाजार आदि से लोक संस्कृति को संरक्षित करने का प्रयार किया। कार्यक्रम में युगल पांडे ने बांसुरी की धून से पूरे माहौल को संगीतमय बना दिया। वहीं हैरी एड ग्रुप ने गिटार वादन व गायन की प्रस्तुति दी। संगीत विभाग की डा. वंदना जोशी ने बेडू पाकों को बारा मासा, ओ नरैण काफल पाकों को चैता की प्रस्तुति पर खूब तालिया बटोरी। डा. शबीहा नाज ने आज जाने की जिद ना करा गजल की प्रस्तुति दी। इसके अलावा परिसर के कलाकारों ने कुमांऊनी, हरियाणवी, गढ़वाली, पंजाबी, राजस्थानी, हिप हॉप, फ्री स्टाइल, एकल नृत्य की शानदार प्रस्तुति देकर कार्यक्रम में रंग जमा दिया। मंच का संचालन प्रो. भीमा मनराल, प्रो. एके नवीन व डा. संगीता ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. प्रवीण बिष्ट ने कहा कि हमें अपनी जड़ो से जुड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा कलाकारों की नगरी है। ऐसे में हर कलाकार को यह मंच हमेशा स्मरण करता रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The Ganesha is of Ganesha s room