The children dressed in the tableaux, the minds of the people, Cholia dancers have shown a fascinating feat. - कृष्ण की लीला में रंगा अल्मोड़ा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कृष्ण की लीला में रंगा अल्मोड़ा

कृष्ण की लीला में रंगा अल्मोड़ा

1 / 2सर्वदलीय महिला संस्था की ओर से जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर नगर में सांस्कृतिक झांकी निकाली। इसमें विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने सजधज कर झांकी में हिस्सा लिया। झांकी के पीछे वाहन में राधा-कृष्ण के...

कृष्ण की लीला में रंगा अल्मोड़ा

2 / 2सर्वदलीय महिला संस्था की ओर से जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर नगर में सांस्कृतिक झांकी निकाली। इसमें विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने सजधज कर झांकी में हिस्सा लिया। झांकी के पीछे वाहन में राधा-कृष्ण के...

PreviousNext

सर्वदलीय महिला संस्था की ओर से जन्माष्टमी महोत्सव को लेकर नगर में सांस्कृतिक झांकी निकाली। इसमें विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने सजधज कर झांकी में हिस्सा लिया। झांकी के पीछे वाहन में राधा-कृष्ण के रूप में सजे बच्चों व छोलिया नृतकों की शानदार प्रस्तुति ने लोगों का मन मोह लिया। झांकी देखने के लिए नगर में जगह-जगह लोगों की भीड़ संख्या में भीड़ उमड़ी।

शुक्रवार को दिन में करीब 1:30 बजे विभिन्न विद्यालयों के बच्चे सजधज कर नगर के मुरली मनोहर मंदिर पहुंचे। यहां से सांस्कृतिक झांकिया निकलना शुरू हुआ। यह थाना बाजार, जौहरी बाजार, कारखाना बाजार, बाटा चौक, लाला बाजार होते हुए नंदा देवी मंदिर पहुंची। सांस्कृतिक झांकी में शामिल छोलिया नृतकों ने बाजार में जगह-जगह आकर्षक करतब दिखाए। जिसे देखने के लिए बाजार क्षेत्र में लोग घरों से निकलकर छज्जे व छतों में आ गए। इन स्कूलों के बच्चों ने झांकी में लिया भागपाइनवुड, होलीहंस, सेंटपॉल, केंद्रीय विद्यालय, आर्यकन्या, जीजीआईसी, साईं स्कूल, शिशु मंदिर, विवेकानंद विद्यामंदिर, कुर्मांचल, कृतार्थ सहित अन्य विद्यालयों के बच्चे शामिल रहे। कोई राधा और कृष्ण के रूप में सजे बच्चे अल्मोड़ा। सांस्कृतिक झांकी प्रतियोगिता में शामिल विभिन्न विद्यालयों के बच्चे आकर्षक तरीके से सजे हुए थे। बच्चे कृष्ण राधा के रूप में सजे हुए लेकिन सभी की पोशाक अलग-अलग तरीके से सजी हुई थी। कोई मोर पंखी तो कोई बिना मोरपंखी के सिर में मुकुट लगाए हुए सजे हुए थे। हर विद्यालय से शामिल बच्चे राधा-कृष्ण के रूप में सजे हुए थे। ये लोग रहे सांस्कृतिक झांकी में शामिल सर्वदलीय महिला संस्था अध्यक्ष मीना भैसोड़ा, सचिव लीला बोरा, लता तिवारी, भगवती बिष्ट, बिमला बोरा, बीना नयाल, प्रीति बिष्ट, किरन पंत, लीला जोशी, गीता मेहरा, जया मेहता, विद्या बिष्ट, लक्की वर्मा, सुशीला साह, लक्ष्मी बोरा, राधा बिष्ट, सोनिया कर्नाटक प्रेमा मेर, बीना पांडे, मुन्नी जोशी सहित नगर के कई लोग शामिल रहे। छोलिया नृतकों ने दिखाया आकर्षक नृत्य अल्मोड़ा। सांस्कृतिक झांकी में शामिल छोलिया नृतकों ने शानदार करतब दिया। जिसे देखने के लिए बाजार में जगह-जगह लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हुए। छोलिया नृतकों ने एक दूसरे के कंधे में चढ़कर शानदार नृत्य भी दिखाया। डांस प्रतियोगिता में अव्वल रहे प्रतिभागी हुए सम्मानित अल्मोड़ा। नंदादेवी मंदिर परिसर में सर्वदलीय महिला समिति की ओर से गुरुवार को हुई डांस प्रतियोगिता का परिणाम शुक्रवार को घोषित किया गया। इस दौरान सभी प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। जूनियर वर्ग में कृतार्थ विद्यालय प्रथम, होलीहंस द्वितीय, महर्षि विद्यालय तृतीय व सीनियर वर्ग में ग्रेस पब्लिक स्कूल प्रथम, केंद्रीय विद्यालय द्वितीय, साईं स्कूल तृतीय स्थान पर रहे। इसके अलावा डांस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले सभी प्रतिभागियों को सम्मानित किया। समापन कार्यक्रम का शुभारंभ जिला पंचायत अध्यक्ष पार्वती मेहरा ने किया। उन्होंने अव्वल रहे बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इस मौके पर कैलाश गुरुरानी, आनंद बगडवाल, मनोज वर्मा, मुन्ना वर्मा, पारू जोशी, मनोज सनवाल, हरीश जोशी सहित कई लोग मौजूद रहे। प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका भानू साह, प्रकाश बिष्ट, शीला पंत आदि ने निभाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The children dressed in the tableaux, the minds of the people, Cholia dancers have shown a fascinating feat.