DA Image
29 नवंबर, 2020|1:15|IST

अगली स्टोरी

रानीखेत में पीपी किट की कमी दूर होगी: माहरा VIDEO

रानीखेत में पीपी किट की कमी दूर होगी: माहरा

1 / 2डॉक्टरों की मांग पर विधायक निधि से पैथोलॉजी मशीन के लिए दो लाख दिए

रानीखेत में पीपी किट की कमी दूर होगी: माहरा

2 / 2डॉक्टरों की मांग पर विधायक निधि से पैथोलॉजी मशीन के लिए दो लाख दिए

PreviousNext

विधायक करन माहरा ने नगर के गोविंद सिंह माहरा राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण कर कोरोना वायरस से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया। इस मौके पर उन्होंने एसडीएम की मौजूदगी में चिकित्सकों के साथ बैठक कर पेश आ रही दिक्कतों की भी जानकारी ली। चिकित्सकों की मांग पर उन्होंने पैथोलॉजी लैब में जांच मशीन के लिए दो लाख विधायक निधि से स्वीकृत किए। उन्होंने कहा कि चिकित्सालय में पीपी किट की कमी को जल्द दूर किया जाएगा। विधायक ने चिकित्सालय के आइसोलेशन का वार्ड का भी निरीक्षण किया।

विधायक माहरा ने रविवार को राजकीय चिकित्सालय में कोरोना वायरस संक्रमण के रोगियों के लिए इंतजामों का जायजा लिया। उन्होंने आइसोलेशन वार्ड सहित उपलब्ध उपलब्ध दवाओं व किए इंतजामों की जानकारी ली। सीएमएस डॉ. डीएस नेई ने बेहतर इंतजाम करने का दावा करते हुए पीपी किट के भारी अभाव की जानकारी भी विधायक को दी। चिकित्सकों के आग्रह पर विधायक ने चिकित्सालय की पैथोलॉजी लैब में विशेष जांच मशीन के लिए चिकित्सालय प्रबंधन समिति को दो लाख रुपये विधायक निधि से देने की घोषणा की। उन्होंने सीएमएस और एसडीएम से आपसी समन्वय बनाए रखने को भी कहा। एसडीएम अभय प्रताप सिंह ने भी चिकित्सालय में किसी भी तरह की दिक्कतों व जरूरतों की जानकारी देने को कहा। इसके बाद विधायक व एसडीएम ने चिकित्सालय में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड का भी निरीक्षण किया। इस मौके पर डॉ. केके पांडे, कांग्रेस जिलाध्यक्ष महेश आर्या, ब्लाक अध्यक्ष गोपाल सिंह देव, नगर अध्यक्ष उमेश भट्ट, कैलाश पांडे आदि मौजूद रहे।

पीएम रिलीफ फंड सहित अन्य मदों से जिले को मदद नहीं मिलने पर विधायक खफा

रानीखेत। विधायक करन माहरा ने विधायक निधि व मुख्यमंत्री राहत कोष के अलावा कोरोना राहत के लिए बनाए प्रधानमंत्री रिलीफ फंड सहित दूसरे मदों से अल्मोड़ा जिले को अब तक मदद नहीं मिलने पर नाराजगी जताई। कहा कि सबसे अधिक जरूरत के इस वक्त में आर्थिक सहायता मिलना बेहद जरूरी है। उन्होंने लोगों से पीएम फंड के अलावा अन्य किसी प्राइवेट फंड में आर्थिक मदद न देने की भी अपील की। एसडीएम अभय प्रताप सिंह के साथ बैठक के दौरान उन्होंने एसडीएम के विवेक पर सभी जरूरतमंदों को राशन वितरण किए जाने पर जोर दिया। कहा कि आशा हेल्थ वर्कर व ग्राम विकास अधिकारियों के माध्यम से बाहरी क्षेत्रों से आए लोगों की पूरी जानकारी प्रशासन की दी जानी चाहिए, ताकि उन्हें 14 दिनों के लिए गांवों के पंचायत घरों में रखा जा सके। विधायक ने गांवों में प्रशासनिक मद से सेनेटाइजेशन करने तथा इसके लिए आशा वर्कर, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का सहयोग लेने के अलावा कृषि मशीनों का इस्तेमाल किए जाने पर भी जोर दिया। सभी सीएचसी, पीएचसी में सेनेटाइजर व मास्क उपलब्ध कराए जा रहें हैं। एसडीएम सिंह ने सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों को कड़ी चेतावनी दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shortage of PP kit in Ranikhet will be overcome Mahra