DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचारियों को मोदी सरकार ने दी खुली छूट: उलोवा

कुमाऊं कमिश्नर डी सैंथिल पांडियन के स्थानांतरण पर उलोवा ने कड़ी नारागजी व्यक्त की है। उलोवा ने कहा है कि मोदी सरकार भष्ट्राचार में लिप्त अफसरों को संरक्षण देकर जनभावनाओं की उपेक्षा की है। इसे प्रदेश के लोग किसी कीमत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। उलोवा के केंद्रीय अध्यक्ष डॉ. शमशेर सिंह बिष्ट ने कहा है कि केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गड़करी के दबाव में ठेकेदार और नेताओं को बचाने के लिए एक ईमानदार अधिकारी का स्थानांतरण ठीक नहीं है। डॉ. बिष्ट ने कहा कि सरकार ने कुमाऊं के आयुक्त की जिम्मेदारी जिस व्यक्ति को दी है। उन्हीं के आदेश पर राज्य आंदोलन के दौरान नैनीताल में पुलिस ने आंदोलकारियों पर गोली चलाई थी। इसमें होटल में कार्य करने वाले एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। बिष्ट ने कहा है कि भाजपा सरकार ने पहले भी मुज्जफरनगर कांड के दोषी डीएम अनंत कुमार सिंह को पुरस्कृत कर जनभावनाओं के साथ कुठाराघात किया है। बिष्ट ने कहा है कि पांडियन ने एनएच के 363 करोड़ रुपये के घोटाले को उजागर करने का प्रयास किया, लेकिन भाजपा नौकरशाहों के दबाव में इमानदार अफसरों का स्थानांतरण कर ऐसे अफसरों का मनोबल गिराने का काम कर रही है, जो प्रदेश के भविष्य के लिए ठीक नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Modi government gives open exemption to corrupt people: ULova