DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अतिथि शिक्षकों ने दी प्रदेशव्यापी आंदोलन की चेतावनी

बुधवार को चौघानपाटा गांधी पार्क में राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के अतिथि शिक्षकों की बैठक हुई। इस दौरान सरकारी पर गलत नीतियां एवं उदासीन रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए जल्द नियुक्ति न दिए जाने पर प्रदेशव्यापी आंदोलन की चेतावनी दी गई। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि सरकार की इस अनदेखी के चलते अतिथि शिक्षकों को आर्थिक समस्या के साथ-साथ मानसिक प्रताड़ना भी झेलनी पड़ रही है। बार-बार आश्वासन दिए जा रहे हैं जिसपर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। कहा कि बीते मंगलवार को अतिथि शिक्षकों ने उच्चशिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत से मुलाकात कर उन्हें अपनी समस्या बताई। जिस पर उच्चशिक्षा मंत्री ने अतिथि शिक्षकों के मामले को कैबिनेट की बैठक में रखने का आश्वासन दिया। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री और विधायक केवल कोरे आश्वासन दे रहे हैं। कोई ठोस कार्रवाई शासन स्तर से नहीं हो रही है। अतिथि शिक्षकों ने तीन साल में पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ दुर्गम और अति दुर्गम इलाकों के स्कूलों में पढ़ाया है। जिसका परिणाम बोर्ड परीक्षाफल में दिखाई दे रहा है। इसके बावजूद भी सरकार की निष्क्रियता अतिथि शिक्षकों में रोष बढ़ा रही है। बैठक में नवल किशोर, भूपेंद्र आगरी, भरत कुमार, राकेश कुमार, सुरेंद्र सिंह भोज, नीमा प्रकाश, मीनाक्षी, लक्ष्मण गैड़ा, पूरन सनवाल, हरीश चौहान, सुमित पांडे, भावना ठाकुर, मंजुल पंत, भूपेंद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Guest teachers warn of the statewide agitation