ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड अल्मोड़ालीसे से फिल्टर हुए जाम, दूषित पानी पीने को मजबूर हुए लोग

लीसे से फिल्टर हुए जाम, दूषित पानी पीने को मजबूर हुए लोग

नगर और आसपास के लोगों को पेयजल समस्या से निजात नहीं मिल पा रही है। बताया जा रहा है कि बारिश के दौरान जंगलों से आग से गिरा लीसा कोसी बैराज के पानी...

लीसे से फिल्टर हुए जाम, दूषित पानी पीने को मजबूर हुए लोग
हिन्दुस्तान टीम,अल्मोड़ाTue, 14 May 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

नगर और आसपास के लोगों को पेयजल समस्या से निजात नहीं मिल पा रही है। बताया जा रहा है कि बारिश के दौरान जंगलों से आग से गिरा लीसा कोसी बैराज के पानी में घुल गया है। लिफ्टिंग के बाद लीसे ने जलाशयों के फिल्टर जाम कर दिए हैं। मंगलवार को भी लोगों का अधिकांश समय पानी की व्यवस्था में गुजरा।
बीते दिनों हुई बारिश लोगों के लिए बड़ी मुसीबत पैदा कर गई है। अल्मोड़ा नगर और आसपास की करीब एक लाख से अधिक की आबादी मुंह के सामने पानी होने के बाद भी इस्तेमाल नहीं कर पा रही है। इसका कारण नलों से लीसा युक्त पानी आना है। दरअसल, इस साल जिले भर के जंगल धूं धूं कर जले हैं। इससे चीड़ के पेड़ों से निकला जमीन में गिर गया था। इसी दौरान मूसलाधार बारिश बरसी। इससे जंगलों से बहकर आया मलबा कोसी नदी में समा गया। भारी मलबा आने से कोसी नदी में सिल्ट जमा हो गई। विभागीय कर्मियों ने सिल्ट तो साफ कर लिया, लेकिन पम्पिंग के बाद लीसा नगर के जलाशयों तक पहुंच गया। अब बताया जा रहा है कि लीसे ने जलाशयों के फिल्टर जाम कर दिए हैं। इससे लोगों को घरों में साफ पानी नहीं पहुंच पा रहा है। लोगों को कब तक पीने का पानी मिलेगा यह अभी तक पता नहीं है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।