DA Image
20 अप्रैल, 2021|9:37|IST

अगली स्टोरी

आल्पस कंपनी के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

आल्पस कंपनी के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

आल्पस फार्मास्यूटिकल्स प्राइवेट कंपनी कर्मचारियों को ईपीएफ और पुराना वेतन देने की मांग को लेकर सात दिनों से धरना प्रदर्शन जारी रहा। कर्मचारियों ने जल्द वेतन और ईपीएफ की धनराशि जमा नहीं करने पर 10 से उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

बुधवार को आल्पस कंपनी के बाहर धरने पर बैठे 140 कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर जमकर नारेबाजी कर धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने ने कहा कई कर्मचारियों को चार से दस माह का वेतन अब तक नहीं दिया गया है। इसके चलते उन्हें आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। कई बार उन्होंने कंपनी के अधिकारियों से गुहार लगा दी है। इसके बाद भी उन्हें वेतन नहीं दिया जा रहा है। इससे उन्हें घर का खर्चा चलाना भी मुश्किल हो गया है। वहीं कर्मचारियों के दो माह का ईपीएफ भी अब तक जमा नहीं किया गया है। इससे कर्मचारियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है। कर्मचारियों ने कहा कि कंपनी मालिक की पत्नी से फोन पर वार्ता की गई। उन्होंने 10 सितंबर को अल्मोड़ा पहुंचकर कर्मचारियों की समस्या हल करने का भरोसा दिलाया। 10 सितंबर को वेतन भुगतान और ईपीएफ का लाभ नहीं मिलने पर कर्मचारियों ने सड़कों पर उतर कर उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी है। धरना प्रदर्शन में कंपनी के कर्मचारी बलवंत सिंह, पूरन भंडारी, घनश्याम जोशी, महेंद्र सिंह बिष्ट, ज्ञान बुधोड़ी, अशोक साह, कुंदन भोज, हेमंद्र रावत, अनिल पंत, रमेश उप्रेती, मंजू बिष्ट, हेमा पाठक, कमला रावत, हेमा बिष्ट, सुमन, बबीता रानी, गीता बिष्ट, गंगा बिष्ट, माया पुनेठा, सरस्वती, सरोज, सीला साह, तुलसी, सविता पूजा, संगीता सहित 140 कर्मचारी मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Embarrassed Alps Company employees continue to be arrested due to absence of salary and EPF