DA Image
23 सितम्बर, 2020|9:09|IST

अगली स्टोरी

डीएम ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास के कार्यों की समीक्षा की

डीएम ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास के कार्यों की समीक्षा की

जिले को कुपोषण से मुक्त कराने के लिए महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की ओर से मंगलवार को विकास भवन सभागार में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। इस दौरान में डीएम नितिन सिंह भदौरिया ने कहा कि स्वस्थ शरीर ही खुशहाल भविष्य का आधार है। इसी परिकल्पना को सिद्ध करने के लिए बाल विकास विभाग द्वारा 1 सिंतबर से 30 सिंतबर तक पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए सभी की सहभागिता जरूरी है। इस अभियान को एक जन आंदोलन का रूप देते हुए कुपोषण के संबंध में अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना है। ताकि हम जनपद को कुपोषण से मुक्त कर सकें। गर्भवती महिलाओं को पोषण के संबंध में जानकारी उपलब्ध कराने, व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने एवं आंगनबाड़ी, आशा कार्यकत्री एवं एएनएम सहित जनप्रतिनिधिनियों के साथ समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये। बैठक में परियोजना निदेशक नरेश कुमार, डिप्टी सीएमओ डा. दीपांकर डेनियल, प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी हरीश रौतेला, मुख्य कृषि अधिकारी प्रियंका सिंह, जिला होम्योपैथि एवं युनानी अधिकारी केएस नपलच्याल सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DM reviewed the work of women empowerment and child development