DA Image
6 दिसंबर, 2020|7:12|IST

अगली स्टोरी

भैसियाछाना ब्लाक में चार दिन में दो हत्याओं से लोगों में गुस्सा

default image

प्रदेश में कानून व्यवस्था सुधारने के लिए भले ही लाख दावे किए जा रहे हों लेकिन सच्चाई यह है कि प्रदेश के गांवों की कानून व्यवस्था राम भरोसे चल रही है। भैसियाछाना ब्लॉक में चार दिन के भीतर दो लोगों को पीट- पीट कर निर्मम हत्या कर दी गई। इससे साफ है कि लोगों में कानून का भय नहीं रहा। हत्या की इन घटनाओं से क्षेत्रवासियों में भारी आक्रोश है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। इससे पूर्व बीते मई माह में भी कुनखेत निवासी प्रवासी सोबन सिंह की राजस्व पुलिस अभिरक्षा में मौत हो गई थी। बेखोफ अपराध की इन घटनाओं के बाद भैसियाछाना ब्लॉक मुख्यालय में पुलिस थाना खुलवाने की मांग मुखर होने लगी है। विभिन्न संगठनों द्वारा धौलछीना में थाना खुलवाने की मांग जोर पकड़ने लगी है। ग्रामीण क्षेत्रों में कानून व्यवस्था का जिम्मा संभाल रहे राजस्व उपनिरीक्षकों को दो-दो पटवारी क्षेत्रों की जिम्मेदारी निभानी पड़ रही है। राजस्व उपनिरीक्षकों के पास ग्रामीण क्षेत्रों की कानून व्यवस्था के साथ ही भूलेख संबंधी कार्य की भी जिम्मेदारी है। इसमें रोस्टर के अनुसार नई खतौनी तैयार करना, मकान, सड़क संबंधी आंकड़े तैयार करना शामिल है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Angry among people over two murders in four days in Bhasiachhana block