अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुर एसपी सुरेंद्र दास की मौत से बलिया गमगीन

Surendra Das (Profile Pic)

कानपुर के पुलिस अधीक्षक (पूर्वी) के पद पर तैनात रहे भरौली निवासी व भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी सुरेंद्र कुमार दास की मौत की खबर मिलते ही जिले के लोग गम में डूब गए। विषाक्त पदार्थ खाने के कारण करीब पांच दिनों से उनका इलाज कानपुर में ही हो रहा था।

आईपीएस अधिकारी सुरेंद्र दास ने बीते मंगलवार की रात विषाक्त पदार्थ खा लिया था। इसके बाद उन्हें कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मुंबई से पहुंची डॉक्टरों की टीम ने उनका आपरेशन किया। इसके बाद उम्मीद थी कि वह स्वस्थ हो जायेंगे। हालांकि रविवार को उन्होंने दम तोड़ दिया। सुरेंद्र दास के खुदकुशी करने की जानकारी होने के बाद से ही लोग उनकी हालत जानने का प्रयास करते रहे। अखबारों व सोशल मीडिया के जरिये लोगों को जानकारी मिलती रही।

रविवार को मौत की खबर मिलते ही भरौली समेत आसपास के गांवों के लोग शोक में डूब गए। भरौली गांव में उनके पट्टीदार व पड़ोसियों ने बताया कि करीब तीन साल से आईपीएस अफसर का परिवार गांव नहीं आया था। वर्ष 2015 में चचेरे भाई अमरनाथ की शादी में सुरेंद्र तथा उनका परिवार गांव आया था। उनके पिता पिता स्व. रामचंद्र दास सेना में कैप्टन थे। सुरेंद्र की शुरूआती पढ़ाई गांव में ही हुई, जबकि 12वीं की पढ़ाई नवोदय विद्यालय सिंहाचवर (बलिया) से की। दो भाइयों में बड़े सुरेंद्र दास बेहद ही मृदुल व मिलनसा रस्वभाव के थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:whole ballia district is sad from ips officer surendra das death