DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्वनाथ मंदिर की आरती अप्रैल से शहर भी देखेगा

श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में होने वाली पांचों पहर की आरती शहर के प्रमुख चौराहों पर भी देखी जा सकेगी। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत सात स्थानों पर एलईडी स्क्रीन लगायी जाएगी। प्रसारण ऑडियो व विजुअल होगा। मंदिर प्रशासन ने प्रसारण की अनुमति दे दी है। यह व्यवस्था अप्रैल में शुरू करने की तैयारी शुरू हो गयी है। डेढ़ लाख से ज्यादा लोग हर माह विश्वनाथ मंदिर पहुंचते हैं।

विश्वनाथ मंदिर पहुंचने वाले हर श्रद्धालु की इच्छा रहती है कि वह बाबा दरबार की आरती देखे लेकिन परिसर में भीड़ के कारण वह इच्छा अधूरी रह जाती है। इसे देखते हुए शहर के प्रमुख स्थानों पर आरती के प्रसारण पर सहमति बनी है। इस क्रम में स्मार्ट सिटी के अधिकारियों ने प्रसारण शुरू करने के लिए कम्पनियों की निविदा आमंत्रित कर दी है। 15 मार्च तक निविदा प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। अधिकारियों के मुताबिक अप्रैल से प्रसारण के लिए छह गुणे तीन मीटर की एलईडी स्क्रीन लगेगी।

तीन साल तक निजी व्यवस्था पर होगी जिम्मेदारी

विश्वनाथ मंदिर की आरती के लाइव प्रसारण के लिए तीन वर्षों के लिए स्मार्ट सिटी से अनुबंध होगा। कॉन्ट्रैक्टर केबल बिछाने व मरम्मत आदि कार्य कराएगा। प्रसारण पर आने वाला खर्च कॉन्ट्रैक्टर विज्ञापन आदि सामाग्रियों से निकालेगा। तीन साल बाद सिस्टम नगर निगम को हैंडओवर कर दिया जाएगा।

सिटी कमांड कंट्रोल सेंटर से होगी मॉनीटिरिंग

आरती का प्रसारण सिटी कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से होगा। प्रसारण के दौरान बाबा दरबार की गोपनीयता बनाए रखने की जिम्मेदारी स्मार्ट सिटी की होगी।

इन चौराहों पर होगा प्रसारण

मैदागिन चौराहा, साजन तिराहा, कचहरी चौराहा, पुलिस लाइन चौराहा, तेलियाबाग चौराहा, भेलूपुर चौराहा

--

पांच पहर की आरती के शुल्क

मंगला आरती 350 रुपए

भोग आरती 180

सप्तऋषि आरती 180

शृंगार आरती 180

शयन आरती 180

--

कोट

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सभी को बाबा की आरती दिखाने की तैयारी है। सात चौराहों पर एलईडी लगायी जाएगी। इसके लिए निविदा आमंत्रित की गयी है।

-रमेश चंद्र सिंह, अपर नगर आयुक्त, नगर निगम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vishwanath temple s Aarti will also see the city from April