DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › वाराणसी › बिजली संकट के लिए शीर्ष प्रबंधन जिम्मेदार
वाराणसी

बिजली संकट के लिए शीर्ष प्रबंधन जिम्मेदार

हिन्दुस्तान टीम,वाराणसीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 07:50 PM
बिजली संकट के लिए शीर्ष प्रबंधन जिम्मेदार

वाराणसी। वरिष्ठ संवाददाता

राज्य विद्युत परिषद अभियंता संघ का पावर कारपोरेशन प्रबंधन के खिलाफ आंदोलन जारी है। सोमवार को अभियंता दो घंटे तक कार्य से विरत रहे। इस दौरान भिखारीपुर स्थित प्रबंध निदेशक कार्यालय के बाहर विरोध सभा की। इसमें प्रबंधन के खिलाफ आक्रोश जताया। संघ के क्षेत्रीय सचिव जगदीश पटेल ने कहा कि प्रदेश में उत्पन्न बिजली संकट के लिए ऊर्जा निगमों का शीर्ष प्रबंधन जिम्मेदार है। अदूरदर्शिता के कारण समय रहते कोयला प्रबंध पर कोई निर्णय नहीं लिया गया। यही वजह है कि जनता को बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कारपोरेशन को 18 से 20 रुपये मंहगी बिजली खरीदनी पड़ी है जिससे वित्तीय स्थिति और खराब हो गई है।

इस मौके पर चन्द्रशेखर चौरसिया, सुनील कुमार यादव, मनोज कुमार सिंह, अविनाश, सौरभ तिवारी, पवन राय, आरके पांडेय, संतोष, अमित श्रीवास्तव, प्रवीण मौर्य आदि मौजूद थे। अध्यक्षता विनोद कुमार गुप्ता व संचालन सर्वेश पांडेय ने किया।

संबंधित खबरें