DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएचयू: एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

1 / 3एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

2 / 3एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

3 / 3एयर शो में हुई फूल व टॉफियों की बारिश

PreviousNext

आईआईटी बीएचयू के तीन दिवसीय तकनीकी उत्सव टेक्नेक्स में रविवार को अंतिम दिन एयरो शो का आयोजन हुआ। जिमखाना मैदान में एयरो मॉडलिंग क्लब ने हैरतअंगेज करतब दिखाए। इसके अलावा स्वतंत्रता भवन में गीतकार व लेखक पीयूष मिश्रा से साथ विप्रो के तकनीकी प्रमुख रित्विक बतबयाल और मुंबई के डब्बावाला के सीईओ पवन अग्रवाल ने छात्र-छात्राओं से गुफ्तगू की। अपने-अपने क्षेत्र के इन महारथियों ने सरल अंदाज में न सिर्फ सफलता के मंत्र बताए बल्कि जीवन में पैसा और पब्लिसिटी के प्रभाव को समझाया।

विप्रो के बतबयाल ने तकनीक का जीवन में महत्व समझाया। उन्होंने कहा कि तकनीक का सही अर्थ है किसी भी चीज को इतना सरल व आसान बना दिया जाए की उसका उपयोग कोई भी कर लें। डब्बावाला के सीईओ पवन अग्रवाल ने छात्रों को समझाया कि कोई भी काम जब सोची समझी रणनीति से की जाए तो उसका प्रभाव व्यापक होता है। छात्रों से रू-ब-रू हुए लेखक, निर्देशक व गीतकार पीयूष मिश्रा ने जीवन में संगीत का महत्व समझाया। 

उधर जिमखाना ग्राउंड में अलग-अलग हवाई मॉडलों ने हवा में कलाबाजियां दिखाई तो दर्शकों ने भी तालियों से उत्साह बढ़ाया। हरक्यूलिस नामक जहाज ने फूल संग टॉफियों की बारिश कर अतिथियों व दर्शकों का स्वागत किया। अत्याधुनिक तकनीक से बने जहाजों में सेंसर लगे थे। इन्हें रिमोट कन्ट्रोल से न सिर्फ नियंत्रित किया जा रहा था बल्कि विविध प्रकार की कलाबजियों के लिए निर्देशित किया जा रहा था। 

प्रो. वीरभद्र मिश्र को समर्पित इस एयरो शो में 19 प्रकार के जहाजों ने प्रदर्शन किया। छात्रों की ओर से बनाए गए ड्रोन से कार्यक्रम की विडियोग्राफी की गई। ड्रोन ने जमीन से महज छह इंच उपर स्थिर होकर वीडियो शूट किया तो आसमान में करीब दो सौ फीट तक उड़ान भरी। आईआईटी परिसर में जगह-जगह कार्यक्रम चल रहे थे। कहीं पर आतिशबाजी संग साइकिल के स्टंट हुए तो कहीं रोबोट शो। तीन दिनों तक चले इस तकनीकी उत्सव में करीब दो हजार प्रतिभागी थे। विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पाने वाले प्रतिभागियों को करीब 40 लाख रुपये के पुरस्कार बांटे गए। कार्यक्रम के समापन की घोषणा आईआईटी के निदेशक प्रो. राजीव संगल ने किया।   

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:three day technical festival in IIT BHU